अवैध शराब का कारोबार करने वाला गैंग पकड़ा...नौ राज्यों में काम करने वाले गैंग से हो रहा था सरकार को करोड़ों के राजस्व का नुकसान

मुजफ्फरनगर। क्राइम ब्रांच, आबकारी विभागे व शहर कोतवाली पुलिस ने राष्ट्रीय स्तर पर शराब की तस्करी करने वाले गिरोह के बारह लोगों को एक करोड से अधिक कीमत के रेपर, होलोग्राम, ढक्कन व शराब सहित गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से चार वाहन भी बरामद हुए है। इस गिरोह के दो सदस्य मौके से भागने में सफल हो गये। उत्तर प्रदेश के गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने जनपद पुलिस को उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से एक लाख रूपये के नगद पुरस्कार की घोषणा की है। एसएसपी अभिषेक यादव ने पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच टीम व शहर केातवाली पुलिस ने एक संयुक्त अभियान में एक सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए देशभर मे शराब की तस्करी करने वाले गिरोह के बारह लोगों को गिरफ्तार किया है। एसएसपी ने बताया कि पकडे गये आरोपियों अमित पुत्र इन्द्रपाल निवासी दक्षिणी कृष्णापुरी, हितेश पुत्र सुरेंद्र निवासी बागपत, जितेंद्र पुत्र बुसिंह निवासी भौराकलां हाल निवासी जाट कालोनी, नितिन उर्फ गुड्डू निवासी जौहरी बागपत, अनूप और कल्लू निवासी अंकित विहार, दिनेश कर्णवाल पुत्र प्रेमचंद निवासी बच्चन सिंह कालोनी, सोमेश निवासी धामपुर बिजनौर, सुरेश निवासी मनसरोवर दिल्ली, देवेंद्र निवासी तावली, नरेश निवासी दौराला, विजयपाल निवासी रामलीला टिल्ला, बबलू निवासी बरवाला शाहपुर है। इनके दो साथी मौके से भागने में सफल हो गये। एसएसपी ने बताया कि पकडे गये आरोपियों के कब्जे से एक स्कार्पियो कार, एक वैगनआर कार, एक आल्टो कार व एक डिस्कवर बाइक के अलावा करीब एक करोड रूपये मूल्य के विभिन्न कम्पनियों के रैपर, ढक्कन, होलोग्राम व शराब बरामद हुई हैं। एसएसपी ने बताया कि उक्त लोग हरियाणा से शराब तस्करी कर लाते थे और अपने घर के बेसमेंट में उनके रैपर और ढक्कन हटाकर अन्य कम्पनियों के रैपर व ढक्कन लगाकर विभिन्न राज्यों में सप्लाई करते है। फिलहाल पुलिस इस गिरोह से जुडे अन्य लोगों के विषय में पूछताछ में जुटी है। एसएसपी ने पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है, जबकि प्रदेश शासन ने भी एक लाख रुपये के ईनाम की घोषणा की है।

Share it
Top