चार वर्ष बाद मिला पीडित परिवार को इंसाफ

चार वर्ष बाद मिला पीडित परिवार को इंसाफ

मोरना। हत्या के चार वर्ष बाद कातिलों को न्यायालय द्वारा आजीवन कारावास की सजा सुनाने पर पीडित परिवार ने संतोष की सांस ली है। न्यायालय पर भरोसा जताते हुए प्रशासन के सहयोग की प्रशंसा करते हुए धन्यवाद दिया है। थाना भोपा क्षेत्र के ग्राम सीकरी में 15 अक्टूबर 2015 को जिला पंचायत चुनाव में हार जीत को लेकर बस स्टैण्ड पर खालिद उर्फ भूरा पर जानलेवा हमला किया गया था, जिसमें पूर्व प्रधान जमशेद पक्ष को आरोपी बनाया गया था। अगले दिन 16 अक्टूबर की सवेरे खालिद के भतीजे तसलीम पुत्र जाहिद की गोली मारकर सरेआम हत्या कर दी गयी थी, जिसमें मृतक के भाई ताजीम ने पूर्व प्रधान जमशेद व उसके बडे भाई गुल सनव्वर, नदीम व मनव्वर के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मामले में पैरोकारी कर रहे पूर्व प्रधान मौ. अम्मार को 22 अगस्त 2017 को मु.नगर के अंसारी रोड पर दिनदहाडे गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी, जिसका मामला न्यायालय में चल रहा है। इसी प्रकरण को लेकर काफी समय तक गांव में तनाव व्याप्त रहा। शनिवार को न्यायालय द्वारा दोषी करार दिये गये पूर्व प्रधान जमशेद, गुलसनव्वर, नदीम व मनव्वर को आजीवन कारावास सहित एक-एक लाख रूपये के जुर्माने की सजा सुनायी गयी। चार वर्षों से न्याय के लिए प्रतीक्षारत पीडित परिवार ने शनिवार को न्यायालय द्वारा इंसाफ मिलने पर राहत की सांस ली। तसलीम के पिता जाहिद, तसलीम की विधवा साजिदा, पुत्री सना, पुत्र अयान व परिवार के सदस्यों वसीम, सलीम, कसीम, खालिद, शाहिद, कलीम, वाहिद, हाजी तारिक, ग्राम प्रधान पति इरफान अली अप्पी ने न्यायालय पर भरोसा जताते हुए प्रशासन के सहयोग पर धन्यवाद किया।

Share it
Top