मुख्यमंत्री के आगमन पूर्व व्यवस्थाओं को किया चाक चौबन्द

मोरना। कल (आज) माननीय मुख्यमंत्री के शुकतीर्थ आगमन की सभी तैयारियों को अंतिम रूप देते हुए उच्च अधिकारियों ने सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अधिकारियों ने ब्रिफिग कर दिशा निर्देश दिये मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में आमजन की नो एन्ट्री रहने की बात अधिकारियों द्वारा बताई गई है।

ब्रह्मलीन स्वामी कल्याणदेव जी महाराज की 15वीं पुण्यतिथि के अवसर पर रविवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ श्रद्धाजलि कार्यक्रम में भाग लेंगे। एक घंटा पचपन मिनट के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री गौशाला भ्रमण, सरकारी परियोजनाओं का शिलान्यास करने के उपरान्त ब्रह्मलीन स्वामी की समाधि पर पुष्पांजलि, यज्ञशाला में आहूति, प्राचीन वट वृक्ष की परिक्रमा, शुकदेव मन्दिर के दर्शन व श्रद्धाजलि सभा में भाग लेने सहित हनुमत धाम में जाकर मन्दिर दर्शन करने का कार्यक्रम है। कार्यक्रम के दौरान आम आदमी का प्रवेश वर्जित रहेगा। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस कप्तान अभिषेक यादव, पुलिस अधीक्षक देहात आलोक शर्मा, पुलिस अधीक्षक यातायात बी.बी. चौरसिया, पुलिस अधीक्षक अपराध आर.बी. चौरसिया, पुलिस अधीक्षक यातायात सहारनपुर अपर्णा गुप्ता, ने जाट धर्मशाला में आयोजित ब्रिफिग में क्षेत्राधिकारियों, प्रभारी निरीक्षकों, थानाध्यक्षों, उपनिरीक्षकों व कांस्टेबलों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये हैं, वहीं शनिवार को भी शुकतीर्थ में सफाई अभियान जारी रहा व मुख्य मार्गों के गड्ढे भरने का कार्य चलता रहा।

हैलीपैड हुआ तैयार: शुकदेव आश्रम स्थित हैलीपैड का पुनर्निर्माण कर अन्तिम रूप दे दिया गया है। हैलीपैड से कुछ ही दूरी पर गौशाला के सामने मुख्यमंत्री के लिए सेफ हाऊस बनाया गया है। हैलीपैड के आसपास धूल व बालू न उडे इसके प्रयास में प्रशासन जुटा हुआ है। एम्बुलेंस की उपस्थिति को लेकर मुख्य चिकित्साधिकारी प्रेम शंकर मिश्रा को दिशा निर्देश दिये गये तथा फायर ब्रिगेड की उपस्थिति को सुनिश्चित किया गया।

मण्डलायुक्त ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा: सहारनपुर मण्डलायुक्त संजय कुमार, डीआईजी सहारनपुर उपेन्द्र कुमार अग्रवाल व जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने सभी तैयारियों का जायजा लिया। अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त मु.वि.प्रा. के सचिव सहित अन्य अधिकारियों ने प्रत्येक व्यवस्था का गहनता से निरीक्षण किया।

गंगा घाट पर भी जा सकते हैं मुख्यमंत्री: शुकदेव आश्रम में कार्यक्रम के समापन के उपरान्त मुख्यमंत्री गंगा घाट पर भी जा सकते हैं। हालांकि अधिकारिक रूप से मुख्यमंत्री के कार्यक्रम गंगा दर्शन की घोषणा नहीं है। किन्तु मुख्यमंत्री से 2 वर्ष पूर्व चुनाव से ठीक पहले हनुमत धाम में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत कर चुके हैं। शुकतीर्थ से जुडी मुख्यमंत्राी की आस्था को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री पतित पावनी मां गंगा के दर्शन को गंगा घाट जा सकते हैं। ऐसी संभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए गंगा घाट पर भी पुलिस व्यवस्था का प्रबन्ध किया गया है। साधारण व्यक्तित्व के धनी थे स्वामी कल्याण देव:तीन सदी के युगदृष्टा शिक्षाऋषि वीतराग स्वामी कल्याणदेव जी महाराज का व्यक्तित्व जन जन में बसा है। स्वामी जी का साधारण व्यक्तित्व आमजन के हृदयों में बस गया। ग्रामीण परिवेश साधारण वेशभूषा एक महान संत को जनता के बीच ले आयी। सर्वप्रथम शिक्षा को माध्यम बनाकर स्वामी जी ने ज्ञान का प्रकाश क्षेत्रा में फैलाया। सैकडों शिक्षा केन्द्रों की स्थापना कराकर स्वामीजी ने क्षेत्रा के विकास की नींव रखने का कार्य किया। इन्हीं शिक्षण संस्थाओं से निकली प्रतिभाएं आज देश विदेश में लोहा मनवा रही है। स्वामी जी के प्रयासों के चलते देश के राष्ट्रपति, राज्यपाल, मुख्यमंत्री आदि आदि शुकतीर्थ में आते रहे हैं। 126 वर्षीय महान संत भौतिक संसाधनों से दूर रहे व आमजन के मध्य रहकर उनके कष्टों का सरलता से दूर करते रहे।

Share it
Top