एमबीबीएस की परीक्षा में नकल करने वाले विद्यार्थियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

एमबीबीएस की परीक्षा में नकल करने वाले विद्यार्थियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मुजफ्फरनगर। एमबीबीएस की परीक्षा में परीक्षा केन्द्र पर मेरठ यूनिवर्सिटी की टीम द्वारा मारे गये छापे में ब्लूटूथ से ऑनलाइन नकल करते हुए पकड़े गये 12 प्रशिक्षु विद्यार्थियों के खिलाफ शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में डिग्री कालेज की कार्यवाहक प्राचार्या के खिलाफ तहरीर दी गई थी, जिसके आधार पर पुलिस ने शुक्रवार को नकल करने वाले विद्यार्थियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। ज्ञात रहे कि चार दिन पूर्व मंसूरपुर थाना क्षेत्र के बेगराजपुर स्थित मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज के एमबीबीएस प्रशिक्षु विद्यार्थियों की परीक्षा के लिए मेरठ रोड स्थित जैन कन्या पाठशाला पीजी कालेज को परीक्षा केन्द्र पर ब्लूटूथ डिवाइस द्वारा नकल कर रहे 12 विद्यार्थियों को सचल दल द्वारा पकड़ लिया गया था। परीक्षा केन्द्र पर चौ. चरण सिंह यूनिवर्सिटी मेरठ और शिक्षा विभाग के अधिकारियों की एक संयुक्त टीम ने छापा मारा था। नकल करने वाले छात्रों ने विग लगाई हुई थी और उसमें ब्लूटूथ डिवाइस छिपा रखी थी। इसी डिवाइस के माध्यम से ये परीक्षार्थी नकल कर रहे थे। टीम के लोगों ने जब इन विद्यार्थियों को नकल करते हुए पकड़ा गया, तो इन्होंने हंगामा शुरू कर दिया था। हंगामे की सूचना पर सीओ सिटी हरीश भदौरिया और सीओ नई मंडी योगेन्द्र सिंह मय फोर्स कालेज परिसर में पहुंचे थे और हंगामा कर रहे विद्यार्थियों को शांत किया था। परीक्षा केन्द्र पर 142 परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे थे। नकल सामग्री के साथ पकडे गये 12 छात्रों को एक कमरे में बंद कर दिया गया और बाकी 130 छात्रों को परीक्षा के बाद रवाना किया गया था। बाद में सभी नकलची छात्रों को निकाला गया था। जैन कन्या डिग्री कालेज की कार्यवाहक प्राचार्या निशा गुप्ता ने नकल करने वाले विद्यार्थियों के खिलाफ शहर कोतवाली में तहरीर दी थी, जिस पर शुक्रवार को पुलिस ने सभी 12 नकलची विद्यार्थियों हिमांशु, सुमित पूनिया, निगम चौधरी, प्रियांशु चौहान, करन पंवार, विकास, लावण्य त्यागी, मोहम्मद मुसाहिद हुसैन, सुमित चौधरी, विशाल वर्मा, मोहित सिंह एवं प्रशांत नेहरा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Share it
Top