सिलेण्डर फटने से दर्जनों मजदूर घायल...भोपा रोड पर गांव मखियाली के निकट मित्तल सिलेण्डर फैक्ट्री में गैस रिसाव के बाद हुआ हादसा

मुजफ्फरनगर। गैस सिलेण्डर की वाल लीक होने के चलते गैस रिसाव के बाद सिलेण्डर में लगी आग से फैक्ट्री में दर्जनों मजदूर बुरी तरह झुलस गये। घायलों को जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया गया, जहां से छह मजदूरों को गंभीर हालत में मेरठ के लिए रैफर कर दिया गया। हादसे की जानकारी मिलने पर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। इस घटना से अफरा-तफरी मच गयी।

जानकारी के अनुसार नई मण्डी कोतवाली क्षेत्रा के अन्तर्गत भोपा रोड पर गांव मखियाली के निकट मित्तल सिलेण्डर फैक्ट्री में आज सुबह गैस सिलेण्डर की वाल लीक होने के चलते गैस रिसाव से आग लग गयी। आग लगने से वहां पर अफरा-तफरी मच गयी और एक सिलेण्डर भी पफट गया। इस हादसे में फैक्ट्री में काम कर रहे दर्जनों मजदूर झुलस गये, जिन्हें अन्य कर्मचारियों की मद्द से जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया गया। हादसे की जानकारी मिलने पर नई मण्डी पुलिस भी मौके पर पहुंची। जिला अस्पताल में उपचार के दौरान छह मजदूरों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें मेरठ के लिए रैफर कर दिया गया, जिन्हें मेरठ के लोकप्रिय अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस हादसे की सूचना मिलने पर घायलों के परिजनों में कोहराम मच गया। कई मजदूरों के परिजन फैक्ट्री पहुंचेे और जिला चिकित्सालय में भर्ती घायलों से मिलें। इसके अलावा जो मजदूर मेरठ में भर्ती हैं, उनके परिजन उनका हाल जानने के लिए मेरठ पहुंच गये। इस हादसे के दौरान वहां पर अफरा-तफरी मची रही। पुलिस ने भी मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि घायल मजूदरों में भोपा थाना क्षेत्र के गांव सिकन्दरपुर गडवाडा निवासी बबलू, रामकुमार, जगतसिंह, भंवर सिंह व पचेण्डा निवासी पप्पू व नीलू को चिकित्सकों ने जिला चिकित्सालय से मेरठ के लिए रैफर किया है, जबकि शेष घायलों का उपचार जिला चिकित्सालय में चल रहा है। इस घटना की जानकारी मिलने पर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह, एसपी सिटी सतपाल अंतिल सहित अन्य पुलिसकर्मी भी फैक्ट्री पहुंचे और घटना स्थल का निरीक्षण किया। एसएसपी ने फैक्ट्री में काम कर रहे मजदूरों व अन्य कर्मचारियों से भी घटना की जानकारी ली है। मित्तल सिलेण्डर फैक्ट्री में हुए हादसे से सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी सवालियां निशान खडे हो गये है। आज इस तरह का हादसा फैक्ट्री में हुआ, जिसमें दर्जनों मजूदर गंभीररुप से झुलस गये। गनीमत यह रही कि गैस रिसाव के बाद आग लगने के कारण हुए इस हादसे में फैक्ट्री में रखे अन्य सिलेण्डरों ने आग नहीं पकड़ी, अन्यथा बडी अनहोनी हो सकती थी। फैक्ट्री मालिक ने भी मौके पर पहुंचकर घायल मजदूरों के परिजनों को हर सम्भव आर्थिक मदद का आश्वासन भी दिया।

Share it
Top