खतौली पुलिस ने किया दूधिया असबाब हत्याकाण्ड का खुलासा, एक गिरफ्तार...दोहरे हत्याकाण्ड में गवाही न देने का दबाव नहीं मान रहा था असबाब

खतौली पुलिस ने किया दूधिया असबाब हत्याकाण्ड का खुलासा, एक गिरफ्तार...दोहरे हत्याकाण्ड में गवाही न देने का दबाव नहीं मान रहा था असबाब

मुजफ्फरनगर। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह के कुशल एवं प्रभावी निर्देशन के चलते थाना प्रभारी खतौली हरसरन शर्मा व उनकी टीम ने कम समय में ही वहाब उर्फ असबाब की हत्या का खुलासा कर हत्या के आरोपी को गिरफ्तार किया। उसके पास से हत्या में प्रयोग किया हुआ रिवॉल्वर व मोटरसाइकिल भी बरामद की। बदमाशों के द्वारा 2013 में वादी के दो पुत्रों की निर्मम हत्या कर दी थी, जो वर्तमान में जेल से रिहा जमानत पर आ चुके थे, तो वहीं मृतक वाहब पुत्र असबाब व उसके पिता अख्तर पर उस मुकदमे में फैंसले का दबाव बनाने का दबाव बना रहे थे। इसी मुकदमे में मृतक वहाब की गवाही होनी थी, इसी कारण वाहब की हत्या की गई। आरोपी वाशु उर्फ उत्तम उर्फ दीपक चौधरी पर कप्तान सुधीर कुमार सिंह के द्वारा 25000 का इनाम घोषित किया हुआ था।

प्रेसवार्ता के दौरान एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि गत दिनों अग्रवाल डेरी के पास खतौली में वाहब उर्फ असबाब की हत्या बदमाशों ने गोली मारकर कर दी थी, जिसके संबंध में थाना खतौली में मुकदमा दर्ज किया गया था, जिस पर थानाप्रभारी खतौली हरसरन शर्मा को मुखबिर की सूचना मिली कि वाशु उर्फ उत्तम चौधरी उर्फ दीपक पुत्र राजकुमार चौधरी निवासी डेरा इलाही पुरा थाना सिविल लाइन हाल निवासी सुशील सिंह का मकान ग्राम मितौली थाना रतनपुरी अलकनंदा नहर पुली के पास खड़े हैं, जिस पर थाना प्रभारी हरसरन शर्मा व उप निरीक्षक मनोज यादव, कॉस्टेबल अमित, कॉस्टेबल विजय मावी ने मुखबिर की सूचना पर बताई जगह आरोपी वासु उर्फ उत्तम उर्फ दीपक पुत्र राजकुमार की घराबन्दी कर गिरफ्तार किया। पकड़ा गया 25000 हजारी शातिर इनामी बदमाश के पास से एक रिवाल्वर 38 बोर, मय जिंदा 3 कारतूस एवं एक मोटरसाइकिल भी बरामद की। बताया जा रहा हैं कि इसी रिवाल्वर से वहाब उर्फ असबाब की गोली मारकर हत्या कर दी थी तथा इस हत्या में शामिल अभी कई बदमाश फरार हैं, जिन पर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह के द्वारा इनाम भी घोषित किया गया है।

Share it
Top