बुढाना पुलिस ने पकडा हथियारों का जखीरा...लोकसभा चुनाव में गडबडी फैलाने के लिये तैयार किये जा रहे थे अवैध हथियार

मुजफ्फरनगर। बुढाना पुलिस ने गांव भसाना के जंगल में ईंख के खेत में छापा मारकर अवैध हथियारों का जखीरा पकडा है। लोकसभा चुनाव में गडबडी फैलाने के मकसद से तैयार किये जा रहे अस्लाह को कुछ राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ताओं को भी सप्लाई किये जाने की बात सामने आयी है। पुलिस ने बडी मात्रा में अवैध तमंचे बरामद कर एक बदमाश गिरफ्तार किया है, जबकि उसका साथी फरार हो गया। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने मौके से तमंचा बनाने की फैक्ट्री के उपकरण, नौ मसकट, 17 तमंचे व कुछ अधबने अवैध अस्लाहों के पुर्जे भी बरामद किये है। एसएसपी ने पुलिस टीम को दस हजार रूपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

जानकारी के अनुसार पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर समेत आठ लोकसभा सीटों पर प्रथम चरण में 11 अपै्रल को होने वाले मतदान में कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाये रखने के मकसद से पुलिस टीम पूरी भागदौड कर रही है। बीते दिवस पुलिस ने भोपा क्षेत्र के गांव तिस्सा में छापा मारकर अवैध शस्त्र बनाने की फैक्ट्री पकडी थी और आज बुढाना पुलिस ने भी क्षेत्र के गांव भसाना के जंगल से ईंख के खेत में चलायी जा रही अवैध शस्त्र बनाने की फैक्ट्री पर छापा मारा और बडी संख्या में अवैध अस्लाह बरामद किये। इस संबंध में एसपी देहात आलोक शर्मा ने पुलिस लाईन में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसएसपी सुधीर कुमार सिंह के निर्देशन में बुढाना पुलिस ने मुखबिर खास की सूचना पर गांव भसाना के जंगल में छापा मारा और जयपाल के ईंख के खेत से अवैध तमंचा बनाने की फैक्ट्री पकडी। पुलिस टीम ने मौके से लताफत पुत्र नफीस निवासी मौहल्ला नई बस्ती बुढाना को गिरफ्तार कर लिया, जबकि उसका एक साथी खडी ईंख की फसल का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया। पुलिस टीम ने घटनास्थल से तमंचा बनाने की फैक्ट्री के उपकरण तथा आठ मसकट 315 बोर, एक मसकट 12 बोर, 7 तमंचे 315 बोर, दस अधबने तमंचे, चार नाल तैयार, आठ नाल बडी 12 बोर, एक नाल छोटी 12 बोर, तीन नाल छोटी 315 बोर के अलावा बडी मात्रा में कारतूस व हथियार बनाने के उपकरणों के साथ ही एक गैस सिलेंडर भी बरामद किया। पुलिस टीम ने गिरफ्तार हथियार तस्कर लताफत से पूछताछ के आधार पर उसके फरार साथी हबीब पुत्र समतुल्ला निवासी ग्राम हुसैनपुर कलां थाना बुढाना की भी तलाश शुरू कर दी है। एसपी देहात ने बताया कि उक्त हथियारों को लोकसभा चुनाव में गडबडी फैलाने के मकसद से कुछ राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं को सप्लाई किये जाने का मामला भी सामने आया है। हथियार तस्करों द्वारा ऑन डिमाण्ड सप्लाई की जानी थी। उन्होंने बताया कि उक्त हथियार तस्कर पहले भी तमंचा सप्लाई करने के मामले में जेल जा चुके हैं। हथियार तस्कर लताफत दिखाने को राजमिस्त्री का काम करता था और चिनाई करने के दौरान ही वह हथियार सप्लाई करने का सौदा कर लेता था। एसपी देहात ने कहा कि पुलिस टीम इस बात की भी जांच कर रही है कि वह कारतूसों की बिक्री कुछ ऐसे शस्त्रधारकों को कर रहा था, जिनके लाईसेंस बने हुए है और वह अवैध रूप से कारतूस खरीद रहे है। इस घटना का खुलासा करने में बुढाना कोतवाली प्रभारी यशपाल सिंह, एसआई शोबीर नागर व पुलिस टीम शामिल रही। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने तमंचा फैक्ट्री का भंडाफोड कर एक अभियुक्त को गिरफ्तार करने वाली बुढाना पुलिस टीम को दस हजार रूपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

Share it
Top