पशु चिकित्सक के दो हत्यारोपी गिरफ्तार, जेल रवाना...शेष आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस, तनाव की आशंका को लेकर मोरना में भारी फोर्स तैनात

मोरना। मोरना के पशु चिकित्सक डॉ. सतीश मलिक की हत्या में शामिल तीन नामजद आरोपियों सहित एक अन्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं मृतक चिकित्सक का रविवार सवेरे पैतृक गांव मंदौड में अन्तिम संस्कार कर दिया गया। वहीं तनाव की आशंका को लेकर मोरना में भारी पुलिस बल तैनात रहा। चिकित्सक की हत्या के उपरान्त शनिवार को हुए धरना प्रदर्शन व जाम के बाद कुछ शरारती तत्वों द्वारा किये गये उपद्रव से साम्प्रदायिक तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गयी थी। थाना सिखेडा क्षेत्र के मंदौड गांव के मूल निवासी डॉ. सतीश मलिक मोरना में रहकर पशु चिकित्सक के साथ फाईनेन्सर का कार्य भी करते थे। दूसरे साहूकारों से कम ब्याज पर पैसा लेकर दूसरों को अधिक ब्याज दर पर पैसे देते थे। चिकित्सक के घर से प्राप्त कागजात के आधार पर उन्होंने चार दर्जन से अधिक व्यक्तियों को कर्ज दिया हुआ था तथा दूसरे लोगों से कर्ज लिया हुआ था, जिसके लेनदेन को लेकर वह रजिस्टर मैन्टेन रखते थे। ककराला निवासी कामिल पुत्रा अयूब सलमानी पर भी चिकित्सक की एक बडी रकम उधार थी, जिसको लेकर कामिल ने अन्य व्यक्तियों के साथ मिलकर चिकित्सक सतीश के सिर पर रॉड मारकर हत्या कर दी थी, जिसका शव थाना ककरौली क्षेत्र के ग्राम दौलतपुर के जंगल से पुलिस ने बरामद किया था। मृतक के तहेरे भाई विनोद पुत्र महावीर ने थाना भोपा पर तहरीर देकर कामिल उसके पिता अयूब, माता सरवरी पत्नी सोनम सहित नईम, आशु, आरिफ, दिलशाद के खिलापफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने सभी आठ आरोपियों के विरूद्ध धारा 302, 120बी, 34 के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज किया तथा आरोपी कामिल, सरवरी, सोनम सहित हत्यारोपियों की मदद करने वाले एक व्यक्ति सलीम उर्फ भूरा को गिरफ्तार कर थाना मीरापुर से जेल भेज दिया। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top