भीम आर्मी की सभा की आशंका को लेकर भारी पुलिस बल तैनात...हनुमतधाम व रविदास आश्रम में पहुंचे पुलिस अधिकारी, दिन भर रहा चर्चाओं का बाजार गर्म

मोरना। खुफिया विभाग से प्राप्त जानकारी के आधार पर प्रशासन में हडकम्प मच गया। भीम आर्मी संगठन की शुकतीर्थ में सभा के आयोजन को लेकर शुकतीर्थ में भारी पुलिसबल तैनात किया गया। आशंकाओं को लेकर हनुमतधाम को सुरक्षा प्रदान करते हुए भारी पुलिस की तैनाती की गई, जिसे लेकर दिन भर विभिन्न चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। प्राचीन तीर्थनगरी शुकतीर्थ स्थित हनुमत धाम के मुख्य द्वार को किन्हीं आशंकाओं को लेकर बंद कराया गया। हनुमतधाम के ओर चारों ओर कडी सुरक्षा के इंतजाम किये गये। दलितों द्वारा मुजफ्फरनगर में हनुमान मंदिर पर कब्जा करने के बाद क्षेत्र में अनेक चर्चाएं व्याप्त हो गई हैं। गुरूवार देर रात्रि भीम आर्मी संगठन द्वारा मोरना क्षेत्र में सभा करने की सूचना ने प्रशासन को अलर्ट कर दिया, जहां से मिले इनपुट के आधार पर खुफिया तंत्र सतर्क हो गया। शुक्रवार सवेरे शुकतीर्थ में हनुमतधाम की ओर जाने वाले मार्गों पर भारी पुलिस व पीएसी बल तैनात कर दिया गया। जनपद के विभिन्न थानों की पुलिस शुकतीर्थ में तैनात की गई। प्रदर्शन और बैठक की सूचना मिलने पर दिनभर शुकतीर्थ में भारी हलचल बनी रही। दलित समाज के आश्रमों में आने जाने वाले लोगों पर पुलिस टीम की विशेष निगाह बनी रही।

पौराणिक धर्मनगरी शुकतीर्थ में शुक्रवार सुबह अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, एसपी देहात आलोक शर्मा, तहसीलदार पुष्करनाथ, सीओ भोपा राममोहन शर्मा, थाना भोपा प्रभारी निरीक्षक ब्रजेश प्रताप सिंह, थाना ककरौली प्रभारी जितेन्द्र अम्बावत सहित विभिन्न थानों की पुलिस ने हनुमत धाम में जाकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया तथा उच्चाधिकारियों ने हनुमतधाम पीठाधीश्वर महामण्डलेश्वर केश्वानन्द जी महाराज से बातचीत की तथा आश्रम की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए मुख्य द्वार को बंद रखा गया। भारी पुलिस फोर्स व आलाधिकारियों को देखकर नगरवासियों के बीच हलचल बढ गयी। पुलिस सूत्रों के अनुसार शुक्रवार को 11 बजे रविदास आश्रम में दर्जनों गांव के दलित समाज के सैंकडों लोगों को इकट्ठा कर कार्यक्रम किए जाने तथा इसके उपरान्त हनुमतधाम में जाकर पूजा-अर्चना कर आश्रम पर कब्जा कर लिए जाने की सूचना प्राप्त हुई। रात्रि में फोन के द्वारा कस्बा भोकरहेडी, मोरना, शुक्रतारी, वजीराबाद, बिहारगढ, फिरोजपुर, ककराला, भेडाहेडी, चौरावाला, बेहडा सादात आदि गांवों में दलित समाज के जिम्मेदार लोगों को शुकतीर्थ में इकट्ठा होने की सूचना दी गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार खुफिया विभाग के अधिकारी ने हनुमत धाम के अधिष्ठता महामण्डलेश्वर केश्वानंद महाराज को मामले से अवगत कराकर जिले के आलाधिकारियों को हनुमतधाम पर कब्जा करने की सूचना दी। शुक्रवार सुबह 6 बजे से विभिन्न थानों की पुलिस सहित दो पलाटून पीएसी बल व भारी पुलिस बल के साथ शुकतीर्थ के अम्बेडकर चौराहे के निकट रविदास आश्रम, जाटव आश्रम और हनुमतधाम जाने वाले रास्तों के चौराहों गलियों आदि पर पुलिस का सख्त पहरा लगा दिया। " रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top