पुरकाजी के गांव सेठपुरा में अजगर ने बकरी को निगला

पुरकाजी के गांव सेठपुरा में  अजगर ने बकरी को निगला

पुरकाजी। पुरकाजी के गांव सेठपुरा में सायं के समय अजगर द्वारा बकरी को पकड़कर लेने पर सनसनी मच गई। ग्रामीणों ने सांप से बकरी को छुड़ाया, लेकिन तब तक बकरी दम तोड चुकी थी। ग्रामीणों की सूचना पर कोई भी वन विभाग का अधिकारी मौके पर पहुंच सका था और देर सायं वन विभाग का संविदाकर्मी पहुंचा और सांप को उठाकर लेकर गए।

सुवाहेडी ग्राम पंचायत के मजरा सेठपुरा में प्रवीण की बकरी सायं के समय निकट जंगल में चारा चर रही थी। चारा चरते हुए अचानक खेत से निकले 10 पफीट लम्बे अजगर सांप ने बकरी को जकड़ लिया। बकरी के द्वारा चिल्लाने पर ग्रामीण इकटठा हो गए और अजगर से बकरी को बचाया। मगर तब तक बकरी मर चुकी थी। ग्रमीणों का आरोप है कि वन विभाग को समय से सूचना दी गई थी, लेकिन वन विभाग की टीम का कोई भी अधिकारी ने अजगर को पकडने के लिए जाना उचित समझा। देर सायं वन विभाग से संविदा कर्मी पहंुचा और नाजिम लाईन मैन की मदद से अजगर को उठाकर ले गए। अब सोचने की बात है कि अगर वन विभाग की टीम समय से पहुंचा जाती, तो बकरी को अजगर से बचा जा सकता था, लेकिन वन विभाग की टीम ने इसमें घोर लापरवाही दिखाई है। गांव सेठपुरा में जब बकरी को अजगर से जकडा और ग्रामीणों ने वन विभाग को सूचना दी, लेकिन घंटों तक कोई भी वन विभाग का अधिकारी नहीं पहुंचा और ग्रामीण अजगर स्वंय भी लोहा लेते रहे, अगर ग्रामीणों से कोई चूक होती तो अजगर ग्रामीणो को भी अपनी चपेट में ले लेता, जिससे बडा हादसा ग्रामीणों के बीच हो सकता था।

Share it
Top