नम आंखों के साथ किया सिपाही विपिन का अन्तिम संस्कार...हरदोई में गौ तस्करों ने ट्रक से कुचलकर उतार दिया था मौत के घाट

मोरना। हरदोई जनपद में हुई दुर्घटना में मारे गये सिपाही का शव गांव में पहुंचने पर श्रद्धांजलि दी गयी तथा नम आंखों के साथ सिपाही का निजी खेत में अन्तिम संस्कार कर दिया गया। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों सहित जनप्रतिनिधि व ग्रामीण उपस्थित रहे।

थाना ककरौली क्षेत्र के ग्राम कटिया निवासी विपिन पुत्र चैनसिंह हरदोई जनपद के पिहानी थाना क्षेत्र में तैनात था। जहां पशुओं से भरी डीसीएम का पीछा करने के दौरान सिपाही विपिन व चौकीदार सुमेर पुत्र सूबेदार की डीसीएम ने कुचल दिया था, जिसमें दोनों की मौत हो गयी थी। विपिन बैंसला के शव को एसीपी जमाल अहमद, सिपाही राहुल, कपिल, नितिन, पवन, अंकित द्वारा कटिया गांव में लाया गया। जहां सिपाही को श्रद्धांजलि दी गयी तथा अपने निजी खेत में अन्तिम संस्कार किया गया। अचानक हुई विपिन की मौत से घर में कोहराम मच गया है। विपिन की शादी 4 मार्च 2017 को जानसठ क्षेत्र के ग्राम मन्तौडी में दीप्ति पुत्री सूरजमल से हुई थी। दो परिवारों पर टूटे गम के पहाड से मातम पसर गया है।

ग्रामीणों ने दुर्घटना बीमा 50 लाख की राशि से अलग 25 लाख की आर्थिक सहायता व परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग शासन प्रशासन से की है। उपजिलाधिकारी जानसठ विजय कुमार, मीरापुर विधायक अवतार भडाना, चन्दन चौहान, नजर सिंह गुर्जर, ब्लॉक प्रमुख योगेश पूर्व प्रमुख विरेन्द्र सिंह, तपेन्द्र प्रधान, सुखपाल प्रधान, मा. प्रभाष, ब्रजपाल सिंह, अजब सिंह, सुरेन्द्र चेयरमैन, रामसिंह, प्रधान विनोद कोहली, रणधावा सिंह, किरण सिंह, ऋषिपाल आदि ने अन्तिम संस्कार में भाग लिया।

Share it
Top