सुपर एक्सप्रेस का अज्ञातवास हुआ समाप्त

सुपर एक्सप्रेस का अज्ञातवास हुआ समाप्त

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, मेरठ सहित आसपास के जनपदों के निवासियों के लिए खुशखबरी। दिल्ली-सहारनपुर मार्ग की सबसे महत्वपूर्ण ट्रेनों में शुमार की जाने वाली ट्रेन सुपर का अज्ञातवास समाप्त होने वाला है। यह ट्रेन लगभग आधा साल उपरांत 16 जुलाई को शान से जनपद के स्टेशन पर अपना आगमन कराएगी। रेलवे विभाग की ओर से इसे तकनीकि कारणों के चलते जनवरी 2018 में बिना कोई कारण बताए कुछ दिनों के लिए रद्द कर दिया गया था। जिसके उपरांत इसके रद्दीकरण में लगातार वृद्धि की जाती रही। जालंधर-नई दिल्ली इंटरसिटी (14682), नई दिल्ली-जालंधर इंटरसिटी (14681) (सुपर) जनपद सहित सहारनपुर, मेरठ सहित आसपास के रेल यात्रियों की जीवन रेखा के नाम से प्रसिद्ध है। यह ट्रेन माह जनवरी 2018 में बिना किसी कारण के रेलवे की ओर से रद्द कर दी गयी थी कुछ दिनों के लिए। इसके बाद थोड़े-थोड़े अंतराल पर इसका रद्द होना रेलवे की ओर से बढ़ाया जाता रहा। जिसके चलते जालंधर को जाने वाले यात्रियों को काफी परेशानियों से दो चार होना पड़ा। इसको चलवाने को लेकर रेल यात्रियों के द्वारा ज्ञापन आदि भी दिये गए। रेल यात्रियों के द्वारा तो यह माना जाने लगा था कि अब यह ट्रेन इस लाइन पर शायद ही दिखाई पड़े। लगभग छह माह बाद रेलवे की ओर से एक पत्रा जारी किया गया, जिसमें बताया गया कि सुपर 14681-14682 का 16 जुलाई 2018 से दिल्ली-सहारनपुर मार्ग पर संचालित किया जाएगा। इस कड़ी में सबसे पहले आगमन 14681 नई दिल्ली-जालंधर इंटरसिटी का होगा। सुपर के आगमन का समाचार जैसे ही रेल यात्रियों को मिला, तो उनमें खुशी की लहर दौड़ गयी। एक रेल यात्राी अजितेश उज्जवल का कहना था कि यकीन नहीं हो रहा कि सुपर इस लाइन पर दौड़ती हुई नजर आएगी। उनका कहना था कि रेलवे की ओर से यदि इसे इतने लंबे अंतराल को लेकर रद्द किया जाना था, तो इसका कारण बताकर रद्द कर देते, इससे यात्रियों को इसके चलने को लेकर भम्र तो नहीं रहता। इसे किश्तों में रद्द किया गया, जिससे यात्रियों में रोष व्याप्त हुआ।

Share it
Share it
Share it
Top