विवाहिता ने की फांसी लगाकर आत्महत्या...मोतीमहल में पंखे से लटककर दी अपनी जान, मासूम पुत्र को रोता-बिलखता छोडा

विवाहिता ने की फांसी लगाकर आत्महत्या...मोतीमहल में पंखे से लटककर दी अपनी जान, मासूम पुत्र को रोता-बिलखता छोडा

मुजफ्फरनगर। पति-पत्नी के बीच चल रहे विवाद में आज एक विवाहिता ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। मात्रा चार साल के मासूम बच्चे को मृतका अपने पीछे रोता-बिलखता छोड गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर जांच-पडताल शुरू कर दी। विवाहिता के आत्महत्या करने को लेकर मौहल्ला मोतीमहल में तरह-तरह की चर्चाएं चल रही है। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के मौहल्ला मोतीमहल में 28 वर्षीय महिला सारिका पुत्राी रमेशचन्द की शादी लगभग पांच वर्ष पूर्व अंकुर के साथ हुई थी। बताया जा रहा है कि शुरू में तो दोनों का वैवाहिक जीवन हंसी-खुशी चलता रहा, लेकिन कुछ दिनों बाद उनमें तनातनी रहने लगी। पिछले कुछ दिनों से पति-पत्नी में काफी विवाद बन गया था। आरोप है कि कई बार मारपीट तक की भी नौबत आयी। बताया जा रहा है कि तीसरे पहर जब सारिका की सास उसके पुत्रा को बाहर घुमाने लेकर गयी हुई थी और सारिका घर में अकेली थी, तभी उसने अपने कमरे में छत के पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। जब उसकी सास बच्चे को लेकर घर वापस पहुंची, तो कमरे का दरवाजा बंद था, जिस पर उसने खिडकी से अंदर का नजारा देखा, तो उसके पांव के नीचे से जमीन खिसक गई। वृद्धा ने तत्काल शोर मचाया, तो मौहल्लेवासी भी वहां इकट्ठा हो गये। महिला को पंखे से लटका देखकर तत्काल पुलिस को सूचना दी गई, जिस पर शहर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे का गेट तुडवाकर शव को पंखे से नीचे उतारा गया। मृतका की सास ने पुलिस को बताया कि पिछले कापफी दिनों से पति-पत्नी के बीच विवाद चला आ रहा था और गृहक्लेश के चलते ही सारिका ने पंखे से लटककर अपनी जान दी है। मृतका का पति कहीं बाहर गया हुआ है, जिसको भी पुलिस ने बुलाया है। महिला द्वारा आत्महत्या की सूचना मिलने पर पूर्व सभासद नन्दकिशोर नन्दू भी वहां पहुंचे। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर कब्जे में ले लिया और परीक्षण के लिये भिजवाकर जांच पडताल शुरू कर दी है। सूचना मिलने पर मृतका के परिजन भी मौके पर पहुंच गये और दोनों ने सारिका के ससुराल वालों पर गम्भीर आरोप लगाये है, जिससे वहां हंगामा भी हो गया।

Share it
Top