मुजफ्फरनगर: आरबीआई ने कराया को-ऑपरेटिव बैंक के खिलाफ मुकदमा दर्ज...नकली नोट भेजने के मामले में सिविल लाईन थाने में डाक से भेजी तहरीर

मुजफ्फरनगर: आरबीआई ने कराया को-ऑपरेटिव बैंक के खिलाफ मुकदमा दर्ज...नकली नोट भेजने के मामले में सिविल लाईन थाने में डाक से भेजी तहरीर

मुजफ्फरनगर। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मुजफ्फरनगर की को-आपरेटिव बैंक की शााखा के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया है। को-आपरेटिव बैंक पर आरोप है कि आरबीआई की कानपुर शाखा को नकली नोट भेजे गये थे।
जानकारी के अनुसार भारतीय मुद्रा के जाली नोटों का मुद्रण एवं परिचालन की धारा 489 ए व 489 ई. में मुकदमा दर्ज कराया गया है। थाना सिविल लाईन में आरबीआई की कानपुर शाखा की ओर से मुजफ्फरनगर के को-आपरेटिव बैंक के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। आरबीआई कानपुर ने थाना सिविल लाईन को डाक द्वारा तहरीर भेजकर मुकदमा दर्ज कराया। बताया जा रहा है कि जुलाई 2017 में को-आपरेटिव बैंक मुजफ्फरनगर की मुख्य शाखा द्वारा आरबीआई की कानपुर शाखा को जो खजाना भेजा गया था, उसमें पांच सौ के 19 व एक हजार के 15 नोट नकली निकले थे। इसी प्रकार का एक मामला पीएनबी नई मंडी शाखा पर भी दर्ज किया जा चुका है।
आरबीआई प्रबन्धक अनुभाग निर्गम विभाग कानपुर ने यह मुकदमा दर्ज कराया है। जीएम बैंक करेंसी नोर्थ नासिक व जीएम बैंक नॉर्थ प्रेस देवास से इस मामले की जांच कराई जा रही है।

Share it
Top