मुजफ्फरनगर: खतौली कोतवाली पुलिस ने जानसठ तिराहे से मुर्गी-बिरयानी ठेली हटवाई

मुजफ्फरनगर: खतौली कोतवाली पुलिस ने जानसठ तिराहे से मुर्गी-बिरयानी ठेली हटवाई

खतौली। कोतवाली पुलिस द्वारा जानसठ तिराहे से मुर्गे बिरयानी की ठेलियों को हटवाये जाने का प्रकरण अखबारों में छपने पर भारतीय किसान यूनियन ने इससे अपना पल्ला झाड लिया है। भाकियू जिलाध्यक्ष राजू अहलावत ने संगठन के नाम पर अवैध कार्य करने वालों को पुलिस से कार्यवाही कराये जाने की चेतावनी दी है। जानकारी के अनुसार कोतवाल पीपी सिंह ने जानसठ तिराहे पर ठेली लगाकर मुर्गा बिरयानी बेचने वालों को नवरात्र के दौरान ठेली न लगाने की चेतावनी दी थी, जिसे ठेली वालों ने नजर अंदाज कर अपना काम बदस्तूर जारी रखा। इससे खिन्नाये कोतवाल पीपी सिंह ने जानसठ तिराहे से मुर्गे बिरयानी की ठेलियों को स्थायी रूप से हटवा दिया था। चर्चा है कि बीते गुरूवार को कस्बे के भाकियू में नये भर्ती रंग रूटों ने जिलाध्यक्ष राजू अहलावत का नाम लेकर ठेलियो को पुनः जानसठ तिराहे पर खड़ा करा दिया था। इसका पता चलने पर कोतवाल पीपी सिंह ने मुर्गा बिरयानी बेचने वालों को ठेलियों सहित थाने में जमा करा दिया था। इससे आक्रोशित भाकियू के कुछ कार्यकर्ताओं ने कोतवाल पीपी सिंह की अनुपस्थिति में थाने में हंगामा कर ठेली वालों को छुड़ा लिया था। बड़े आंदोलनों के माध्यम से केंद्र व प्रदेश सरकारों की नाक में दम करने वाली भाकियू के जानसठ तिराहे की मुर्गे बिरयानी की ठेलियो में दिलचस्पी लेने की खबर समाचार पत्रों में छपने पर जिलाध्यक्ष राजू अहलावत ने इस प्रकरण से अनभिज्ञता प्रकट कर भाकियू के नाम पर अवैध कार्य करने वालों को पुलिस कार्यवाही कराने की चेतावनी दी है। दूसरी और कोतवाल पीपी सिंह ने भी सार्वजनिक स्थलों पर खड़े होकर मुर्गे बिरयानी बेचने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही किये जाने की चेतावनी दी है।

Share it
Top