भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोतवाली का घेराव कर धरना-प्रदर्शन किया

भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोतवाली का घेराव कर धरना-प्रदर्शन किया

बुढ़ाना। बुढ़ाना कोतवाली में भाजपाईयों ने जमकर हंगामा व प्रदर्शन करते हुए कोतवाली में धरना दिया। उन्होने आरोप लगाया कि पूछताछ के नाम पर बायवाला चौकी प्रभारी बीएस अत्री ने दो युवकों से बेरहमी से मारपीट की तथा छोडने के नाम पर सुविधा शुल्क मांगा। सीओ के एसएसपी से वार्ता के बाद दरोगा के निलंबन के आश्वासन पर धरना समाप्त हुआ। कोतवाली क्षेत्र के गांव कुरथल में बाइक चोरी के मामले में पुलिस ने दो युवकों रोबिन व बंटी को पूछताछ के लिए बुलाया था। जिला पंचायत सदस्य रामनाथ सिंह के साथ कुछ ग्रामीण रविवार को दोनों युवकों को पूछताछ के लिए कोतवाली में लाकर पुलिस को सौंप दिया था। आरोप है कि बायवाला चौकी प्रभारी बीएस अत्राी ने रात्रि में दोनों युवकों की बेरहमी से पिटाई की तथा युवकों के परिजनों से उन्हें छोडने के नाम पर सुविधा शुल्क की मांग की गई। सुविधा शुल्क न देने पर जेल भेजने की धमकी दी गई। सोमवार को घटना की सूचना मिलते ही जिला पंचायत सदस्य रामनाथ सिंह के साथ कुरथल गांव से दर्जनों ग्रामीण व क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोतवाली पहुंचकर हंगामा किया। भाजपा व हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता थाने में धरने पर बैठ गये। उन्होंने दरोगा को निलम्बित करने व उनकी रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की। घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्राीय विधायक उमेश मलिक भी कोतवाली पहुंच गए। उन्होंने मौजूद पुलिस अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई। मौके पर पहुंचे सीओ हरिराम यादव व इंस्पेक्टर चमन सिंह चावड़ा ने एसएसपी से फोन पर वार्ता की और मामले की जानकारी दी। एसएसपी से वार्ता के बाद सीओ ने बताया कि एसएसपी ने मामले की जांच कर दरोगा को निलम्बित करने का आश्वासन दिया है। सीओ के आश्वासन पर धरना समाप्त किया गया। इस दौरान जिला पंचायत सदस्य रामनाथ सिंह, भारत, मोनू, मंगलू प्रधान बिटावदा, अनिल लुहसाना आदि मौजूद रहे।

Share it
Top