उद्यमियों व भाजपाईयों में चले लात-घूसे...भाजपा विधायक विक्रम सैनी के फैक्ट्री में आग लगवा देने के बयान से उद्यमी आक्रोशित, माफी की मांग

उद्यमियों व भाजपाईयों में चले लात-घूसे...भाजपा विधायक विक्रम सैनी के फैक्ट्री में आग लगवा देने के बयान से उद्यमी आक्रोशित, माफी की मांग

मुजफ्फरनगर। मंसूरपुर क्षेत्र के गांव घासीपुरा में फसल बर्बाद होने से किसान की हार्टअटैक से मौत के बाद हुए बवाल के दौरान गत दिवस भाजपा विधायक विक्रम सैनी द्वारा एक पफैक्ट्री में आग लगा देने के बयान से आक्रोशित उद्यमियों ने विधायक से माफी मांगने की मांग की। इसी बात को लेकर आज भाजपाईयों व उद्यमियों में लात-घूसे चले और जमकर मारपीट हुई। हंगामे के दौरान एक-दूसरे को अपशब्द भी कहे गये। इस दौरान एक भाजपा विधायक मंच से नीचे भी गिर पडे। घंटों चली अफरा-तफरी के बाद मान-मनौव्वल का दौर शुरू हुआ और भाजपाई व उद्यमी एक-दूसरे को मनाते फिरने लगे। यह सब ड्रामा भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. रमापति राम त्रिपाठी के सामने हुआ।
जानकारी के अनुसार गत दिवस मंसूरपुर क्षेत्र के गांव घासीपुरा में एक फैक्ट्री से निकली जहरीली गैस के कारण फसल बर्बाद होने से किसान रघुवीर सैनी की हार्टअटैक से मौत होने के बाद भाकियू, रालोद व अन्य क्षेत्र के किसानों ने फैक्ट्री के बाहर मृतक किसान का शव रखकर जमकर हंगामा किया था। मृतक के परिजनों ने फैक्ट्री मालिक व मैनेजर के साथ भी मारपीट कर दी थी। इसी बीच वहां भाजपा विधायक विक्रम सैनी पहुंच गये और उन्होंने मौके पर डीएम को बुलाने की मांग कर दी। जोश में विधायक यहां तक कह गये कि यदि डीएम नहीं आये, तो फैक्ट्री में आग लगवा दूंगा। इस बयान के बाद उद्यमियों में भी उबाल आ गया। उन्होंने रात्रि में ही विधायक के बयान पर कडा ऐतराज जताते हुए माफी मांगने की मांग की और उग्र आन्दोलन करने की चेतावनी तक दे डाली। आज सुबह आदर्श कालोनी लिंक रोड पर स्थित भावना पैलेस में पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के अन्तर्गत एक जिला संगोष्ठी का आयोजन किया गया था, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. रमापति राम त्रिपाठी, प्रदेश प्रवक्ता श्रीमति अनिला सिंह, क्षे. संयोजक अरूण वशिष्ठ के अलावा केन्द्रीय राज्यमंत्री डॉ. संजीव बालियान, भाजपा जिलाध्यक्ष रूपेन्द्र सैनी, विधायक उमेश मलिक व विधायक कपिलदेव जैसे भाजपा के अग्रणी नेता मौजूद थे। कार्यक्रम शुरू होते ही वहां बडी संख्या में मौजूद उद्यमी इस मांग पर अड गये कि पहले विधायक विक्रम सैनी के बयान पर माफी मांगी जाये और उसके बाद कार्यक्रम शुरू किया जाये। इसी बात को लेकर हंगामा शुरू हो गया। भाजपाईयों का कहना था कि कार्यक्रम के समापन के पश्चात इस मुद्दे पर चर्चा की जायेगी, लेकिन उद्यमी कार्यक्रम से पहले ही माफी मांगने की जिद पर अड गये। दोनों तरफ से आरोप-प्रत्यारोप होने लगे। फैक्ट्री मालिकों व भाजपा कार्यकर्ताओं ने विधायक विक्रम सैनी के विवादित बयान को लेकर उपजे विवाद को लेकर तीखी नोंकझोंक और हाथापाई शुरू हो गई। उद्यमियों की तरफ से कुशपुरी, अमित गर्ग, विपुल भटनागर, अभय केडिया, अनिल कंसल, नीलकमल पुरी, अंकुर गर्ग, गौरव केडिया, पवन अग्रवाल, प्रदीप जैन, अजय कपूर आदि के साथ मारपीट हुई, जबकि भाजपाईयों को भी चोट लग गयी। धक्का-मुक्की के दौरान मंच पर खडे विधायक कपिलदेव अग्रवाल मंच से नीचे गिर पडे। मारपीट की घटना के दौरान वहां अफरा-तफरी मच गयी और मंचासीन सभी अतिथि भी खडे हो गये तथा कार्यकर्ता भी कुर्सी से खडे होकर बीच-बचाव करने लगे। दोनों पक्षों में काफी देर तक जमकर धक्का-मुक्की व मारपीट होती रही, इस दौरान एक-दूसरे को अपशब्द भी कहे गये।
मुख्य वक्ता रमापति राम त्रिपाठी व विधायक कपिलदेव अग्रवाल, उमेश मलिक, जिलाध्यक्ष रूपेन्द्र सैनी, पूर्व चेयरमैन डॉ. सुभाषचन्द शर्मा, पूर्व विधायक अशोक कंसल, पूर्व जिलाध्यक्ष सतपाल सिंह पाल व यशपाल पंवार, जिला महामंत्री हरीश अहलावत, प्रवीण शर्मा, भूषण सिंह पचैण्डा, शिवराज त्यागी, वेदपाल ठेकेदार, रोहताश पाल आदि ने बामुश्किल उत्तेजित उद्यमियों को शान्त किया। उद्यमियों की बात सुनने के बाद ही मामला शान्त हो सका और कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत हुई।

Share it
Top