जानलेवा हमले के आरोपी को सुनाई कोर्ट ने दस वर्ष की सजा ... पुरानी रंजिश को लेकर की गयी फायरिंग व गाली-गलौच के मामले में जुर्माना भी किया

जानलेवा हमले के आरोपी को सुनाई कोर्ट ने दस वर्ष की सजा ... पुरानी रंजिश को लेकर की गयी फायरिंग व गाली-गलौच के मामले में जुर्माना भी किया

मुजफ्फरनगर। जानलेवा हमले के एक आरोपी को कोर्ट ने आज दस वर्ष वर्ष की सजा सुनाई है, जबकि सह आरोपी को पांच वर्ष की सजा सुनाई गयी है। लगभग चार वर्ष पूर्व दिसम्बर 2015 में ग्राम खरड़ में दो पक्षों में संघर्ष हुआ था, जिसमें एक व्यक्ति को गोली लगी थी, जबकि दूसरा बाल-बाल बच गया था। इस मामले में कोर्ट ने दो आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया। जानकारी के अनुसार गत 15 दिसम्बर 2015 को ग्राम खरड़ में जमीनी रंजिश को लेकर फायरिंग व गाली-गलौच के मामले में आरोपी जसवीर को दस वर्ष की सजा कोर्ट ने सुनाई है, जबकि उस पर 25 हजार रुपये का जुर्माना भी किया गया है। इस मामले मेें दूसरे आरोपी राममेहर पर गाली-गलौच करने के आरोप सिद्ध होने पर पांच वर्ष की सजा सुनाई गयी है और 25 हजार रुपये का जुर्माना भी किया गया है। इस मामले की सुनवाई एडीजे-9 राध्ेश्याम यादव की कोर्ट में हुई। अभियोजन की ओर से सहायक शासकीय अधिवक्ता नरेश कुमार शर्मा ने पैरवी की, जबकि वादि की ओर से श्यामवीर सिंह व विक्रांत मलिक ने पैरवी की। उल्लेखनीय है कि गत 15 दिसम्बर 2015 को भौराकलां थाना क्षेत्र के ग्राम खरड़ में पुरानी रंजिश को लेकर जानलेवा हमला हुआ था, जिसमें एक व्यक्ति महिपाल को गोली लगी थी, जबकि दूसरा भी बाल-बाल बच गया था। घटना के बारे में वादी हरपाल सिंह ने चार आरोपियों के विरुद्ध यह मामला दर्ज कराया था। इनमें जसवीर सिंह, राममेहर, देवेन्द्र सिंह व सरोज को नामजद किया गया था। कोर्ट ने दो आरोपियों को सबूत के अभाव में बरी कर दिया है।

Share it
Top