दहेज को लेकर महिला की जलाकर हत्या करने का मामला...पति व सास को दस-दस वर्ष की सजा सुनाई, कोर्ट ने दोनों पर पन्द्रह-पन्द्रह हजार रूपये का जुर्माना भी किया

दहेज को लेकर महिला की जलाकर हत्या करने का मामला...पति व सास को दस-दस वर्ष की सजा सुनाई, कोर्ट ने दोनों पर पन्द्रह-पन्द्रह हजार रूपये का जुर्माना भी किया

मुजफ्फरनगर। दहेज प्रकरण को लेकर महिला की जलाकर हत्या करने के सनसनीखेज मामले में आज कोर्ट ने मृतका के पति व सास को दस-दस वर्ष की सजा सुनाई है। मृतका के पति व सास पर पन्द्रह-पन्द्रह हजार रूपये का जुर्माना भी कोर्ट ने किया है।
जनपद शामली के थाना झिंझाना के लक्ष्मणपुरा में दहेज की मांग पूरी न होने पर विवाहिता पूनम को जिंदा जलाने के मामले में कोर्ट ने आरोपी पति मोहित व सास बसंती को आज दस-दस वर्ष की सजा सुनाई है। दोनों पर पन्द्रह-पन्द्रह हजार रूपये का जुर्माना भी किया गया है। इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट-प्रथम के जज ओमवीर सिंह की कोर्ट में हुई। अभियोजन पक्ष की ओर से सरकारी वकील सीताराम आर्य ने पैरवी की। ज्ञातव्य है कि पन्द्रह मई 215 को 22 वर्षीय पूनम पत्नी मोहित को मिट्टी का तेल डालकर आग में जिंदा जला दिया गया था। पूनम का विवाह 22 जुलाई 213 को मोहित से हुआ था। आरोप है कि तभी से ससुराल वाले दहेज में नकदी व कार की मांग करने लगे और मांग पूरी न होने पर उसकी हत्या कर दी थी। पीडिता ने मृत्यु पूर्व दिये बयानों में आरोपियों को नामजद किया था।

Share it
Top