अंधविश्वास के चलते समाज में फैल रही अफरा-तफरी से पुलिस-प्रशासन पसोपेश में

अंधविश्वास के चलते समाज में फैल रही अफरा-तफरी से पुलिस-प्रशासन पसोपेश में

खतौली। कस्बे में कथित चुडैल के महिलाओं की चोटी काट लेने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को कथित चुडैल अथवा भूत पिशाच के दो और महिलाओं की चोटी काट लेने से हडकम्प मच गया। दूसरी और चुडैल के डर से महिलाये दिन में भी घरो के अन्दर ताला लगाकर रह रही है। इसके अलावा अंधविश्वास के चलते समाज में पफैल रही अफरा-तफरी से पुलिस प्रशासन भी पसोपेश में है। जानकारी के अनुसार बुधवार प्रातः मौहल्ला काजियान गली नूरडहर निवासी आपफताब मुल्तानी की पत्नी यासमीन व सद्दीकनगर निवासी कासिम की पत्नी तबस्सुम अपने घरेलू काम निपटाने में मशगूल थी। दोनों महिलाओं के अनुसार इस दौरान किसी अदृश्य डरावनी शक्ति ने इनकी चोटी काट ली। चोटी कटने पर दोनों महिलाओं के अचेत होने से परिजनों में हडकम्प मचने के अलावा इनके घरों के बाहर तमाशबीनों की भीड़ जमा हो गयी। दूसरी और हास्यास्पद ढंग से महिलाओं की चोटी कट जाने की बात समाज के नागरिकों के गले नहीं उतर रही है। अधिकतर लोग चोटी कटने की घटनाओं को चिलत्तर बाजी से जोड़ कर देख रहे है। कथित चुडैल की दहशत से महिलाये दिन में घर के अन्दर ताला बन्द करके रह रही है। इसके अलावा कथित चुडैल, भूत, प्रेत की अफवाहों से समाज में फैल रही अफरा-तफरी से पुलिस प्रशासन भी परेशान है। जानसठ संवाददाता के अनुसार क्षेत्र में चोटी कटने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। विचित्र चुड़ैल की महिलाओं में जबरदस्त दहशत अपफवाहों का दौर जारी है। मिली जानकारी के अनुसार मौहल्ला हुसैनपुरा के निकट किल्ली दरवाजा जानसठ में कक्षा 11 की छात्रा मुस्कान पुत्राी मोहर्रम अली रात्रि में अपने मकान में सोई हुई थी। विगत रात्रि सोते समय उसकी चोटी काट ली गई। जागने पर उसे मालूम हुआ तथा मौहल्ले में चोटी कटने की जानकारी होते ही उसके मकान के बाहर भीड़ जमा हो गई। लोग तरह-तरह के अनुमान लगा रहे थे तथा मौहल्ले व नगर में महिलाओं में दहशत व्याप्त है, परंतु कुछ समझदार लोग इसे अफवाह मान रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि उक्त घटना कोरी बकवास है। उक्त घटना क्षेत्रा में चर्चा का विषय बनी हुई है। चोटी कटने की घटना नगर में आग की तरह फैल गई। उक्त घटना की जानकारी के लिए नगरवासियों का तांता लगा रहा, परंतु मीडिया कर्मी में प्रातः उक्त घटना की जानकारी के लिए मोहर्रम के मकान की ओर दौड़ पड़े तथा दिन भर आने जाने वालों का तांता लगा रहा।

Share it
Top