कांवडियों की सुरक्षा को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट.....पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों की अनेक टुकडियां कांवड यात्रा मार्ग पर जगह-जगह तैनात

कांवडियों की सुरक्षा को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट.....पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों की अनेक टुकडियां कांवड यात्रा मार्ग पर जगह-जगह तैनात

मुजफ्फरनगर। खुफिया एजेन्सियों के अलर्ट के बाद कांवड यात्रा के दौरान सुरक्षाबलों में विशेष सतर्कता बरतनी शुरू कर दी है। डॉग स्क्वॉयड के साथ ही बम निरोधक दस्ता लगातार कांवड यात्रा मार्ग पर चौकन्ना है और हर छोटी-छोटी घटना पर बारीकी से ध्यान कर रहा है। संदिग्ध वस्तुओं को लेकर भी लोगो को आगाह किया जा रहा है। किसी भी संदिग्ध वस्तु के मिलने पर पुलिस व सैनिक को तत्काल सूचना देने की हिदायत सभी को दी गई है। नगर के हृदयस्थल शिवचौक के आसपास भी कडा सुरक्षा घेरा बनाया गया है। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी लगातार सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर अपनी नजर बनाये हुए है।
जम्मू कश्मीर के अनन्तनाग में पिछले दिनों अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के बाद कांवड यात्रा पर भी आतंकी साया छाया हुआ है। खुफिया एजेन्सियां लगातार आतंकी हमले का इनपुट सुरक्षा एजेन्सियों को दे रही है। इसी के मद्देनजर एटीएस, क्राईम ब्रांच, एलआईयू समेत सभी खुफिया एजेन्सियां पूरी तरह सक्रिय है और कांवड यात्रा मार्ग पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। कांवड यात्रा में पुलिस व सैनिक बलों को तैनात किया गया है। हरिद्वार से लेकर पुरा महादेव तक बडी संख्या में सुरक्षाबल तैनात किये गये है। नगर के हृदयस्थल शिवचौक पर भगवान आशुतोष की मूर्ति की परिक्रमा करने के बाद ही शिवभक्त भोले अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी, एसपी सिटी ओमवीर सिंह, सीओ सिटी हरीश भदौरिया, एसपी देहात अजय सहदेव के साथ ही शहर कोतवाल संजीव कुमार शर्मा, एसएसआई समयपाल अत्राी, सिविल लाईन थानाध्यक्ष गिरीशचन्द शर्मा, एसएसआई कालीचरण तोमर, नई मण्डी कोतवाल कुशलपाल सिंह के साथ ही रामलीला टिल्ला चौकी प्रभारी आदेश त्यागी व महिला थानाध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा विभिन्न स्थानों पर सक्रिय रहकर कांवडियों की सुरक्षा में जुटे हुए हैं। लगातार चैकिंग अभियान चलाकर संदिग्ध गतिविधियों में संलिप्त लोगों को हिरासत में लिया जा रहा है। वाहनों की भी चैकिंग की जा रही है और पूरे कांवड यात्रा मार्ग पर किसी भी संदिग्ध घटना होने पर तत्काल कार्यवाही की जा रही है। स्थानीय पुलिस के सहयोग से खुफिया एजेन्सियों ने अपने मुखबिर तंत्रों को भी काफी मजबूत किया है। इसके लिये एसपीओ भी तैनात किये गये हैं, जो सुरक्षा व्यवस्था बनाने में पुलिस का सहयोग कर रहे है। इसके अलावा एसएसपी अनन्तदेव तिवारी द्वारा पिछले दिनों गठित एस-7 व एस-10 की टीमें भी लगातार कांवड यात्रा में पुलिस प्रशासन का सहयोग करने में जुटी हुई है। जनपद के संवेदनशील व अतिसंवेदनशील क्षेत्रों के अलावा मिश्रित आबादी वाले मौहल्लों में भी कांवडियों के गुजरने के दौरान कडी सुरक्षा बरती जा रही है। हरिद्वार से गंगाजल लेकर आने वाले कांवडिये पुरकाजी से होते हुए सिसौना से बझेडी फाटक पार कर कच्ची सड़क से अस्पताल तिराहे पहुंचते है। यहां से सभी कांवडिये शिवचौक पहुंचकर भगवान आशुतोष की प्रतिमा की परिक्रमा करने के बाद अपने गंतव्य को रवाना हो रहे है। शिवचौक से हरियाणा के अलावा शामली, बुढाना, बागपत की तरफ जाने वाले कांवडिये भगत सिंह रोड की तरपफ से जा रहे है, जबकि दिल्ली, राजस्थान के कांवडिये मीनाक्षी चौक की तरफ से जा रहे है। इसके अलावा पुरा महादेव जाने वाले कांवडिये भी मेरठ रोड से मंसूरपुर से नावला कोठी होते हुए अपने गंतव्य की तरफ जा रहे है। कांवडियों की संख्या दिनोदिन बढती जा रही है, जिस कारण सुरक्षा के भी उचित प्रबंध किये जा रहे है। कांवड यात्रा मार्ग पर डॉग स्क्वॉयड के साथ खुपिफया एजेन्सियों के अधिकारी लगातार भ्रमण करने में जुटे हुए है। किसी अप्रिय घटना से बचने के लिये विशेष सतर्कता बरती जा रही है। खुफिया एजेन्सियों ने पुलिस के साथ मिलकर अपने सूचनातंत्र को मजबूत किया है, जिससे किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके, इसके लिये सादी वर्दी में भी पुलिसकर्मी तैनात है। शासन स्तर से भी पल-पल की जानकारी ली जा रही है। डीजीपी से लेकर मेरठ जोन के एडीजी, आईजी के साथ ही सहारनपुर जोन के डीआईजी केएस एम्युनल भी मुजफ्फरनगर के पुलिस अधिकारियो से लगातार अपडेट ले रहे है। जनपद में कांवड यात्रा का सबसे ज्यादा जोर रहता है। पूरे पश्चिम उत्तर प्रदेश के साथ ही हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली का कांवडिया मुजफ्फरनगर से होकर गुजरता है, इसी कारण कडी सुरक्षा की जा रही है।

Share it
Share it
Share it
Top