तेज रफ्तार ट्रक ने भैंसा-बोगी को कुचला, पिता-पुत्री की मौत...एक नाजुक, गुस्साये लोगों ने लगाया शाहपुर-मुजफ्फरनगर मार्ग पर जाम

शाहपुर। शाहपुर-मुजफ्फरनगर मार्ग पर गुड़ मंडी के सामने अनियंत्रित ट्रक ने टक्कर मारकर भैंसा-बोगी में आ रहे तीन लोगों को बुरी तरह से कुचल दिया, जिससे पिता पुत्री की मौके पर मौत हो गई, जबकि मृतक का पिता भी हादसे में गम्भीर रूप से घायल हो गया, जिसे जिला अस्पताल भर्ती कराया। घटना की सूचना मिलते ही आक्रोशित ग्रामीणों ने मुजफ्फरनगर-शाहपुर मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी धर्मेंद्र सिंह मयफोर्स मौके पर पहुंचे तथा ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, परंतु ग्रामीण मुआवजे की मांग करते हुए जाम पर अडिग रहे। विधायक उमेश मलिक, एसडीएम बुढाना दीपक कुमार, सीओ बुढाना विजय प्रकाश व कई थानों की फोर्स मौके पर लगी रही। मुआवजे के आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम खोल दिया। तीन घण्टे से लगे जाम के कारण दोनों ओर लगी वाहनों की लंबी लाइन लग गई। मिली जानकारी के अनुसार गांव काकड़ा निवासी लालसिंह पुत्र जिला 5० वर्ष व उसकी 14 वर्षीय पुत्री ज्योति व लालसिंह का पिता 75 वर्षीय जिला देर शाम सिलाई मशीन ठीक कराने के लिए भैसा बोगी पर बैठकर शाहपुर जा रहे थे, वे जैसे ही गुड़ मंडी के सामने पहुंचे तो पीछे से आ रहे तेज गति अनियंत्रित ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि लालसिंह व ज्योति की की मौके पर मौत हो गई, जबकि लालसिंह का पिता 75 वर्षीय जिला गम्भीर रूप से घायल हो गया। हादसे में भैसा भी घायल हो गया बुग्गी दो टुकड़ो में हो गई। पुलिस ने ट्रक चालक को हिरासत में ले लिया। पिता पुत्री की मौत की सूचना पर आक्रोशित काकड़ा व आस-पास के ग्रामीणों ने सड़क पर शव रख जाम लगा दिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पँहुची तथा एसडीएम बुढाना दीपक कुमार, सीओ बुढाना विजयप्रकाश व कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंचकर जाम खुलवाने के प्रयास में लगी रही। ग्रामीण मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। विधायक उमेश मलिक मौके पर पँहुचे ओर एसडीएम बुढाना व डीएम से वार्ता कर 1० लाख रुपये मुआवजा दिलाने का आश्वाशन दिया। जिस पर ग्रामीण सन्तुष्ट हो गए तथा जाम खोल दिया। तीन घण्टे तक लगे जाम के कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी लंबी लाइन लगी रही। मृतक एक मध्यम वर्गीय किसान है।

Share it
Top