Read latest updates about "धर्म-दर्शन" - Page 3

  • तिजोरी के आस-पास नहीं होना चाहिए ये रंग..

    जीवन में रंगों का बहुत म​हत्व होता है, रंग ही जीवन में खुशहाली लाते हैं। ज्योतिष में प्रत्येक रंग का अपना महत्व है, हम आपको यहां एक खास रंग के बारे में बता रहे हैं, जो तिजोरी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। अगर ये रंग तिजोरी के आस - पास हो तो व्यक्ति को आर्थिक परेशानियों का सामना नहीं करना...

  • मंदबुद्धि व चिड़चिड़े स्वभाव वाले व्यक्तियों के लिए उपयोगी होता है पिरामिड

    वास्तु शास्त्र में पिरामिड का अपना सुनिश्चित महत्त्व है। पिरामिड के अंदर एक विशेष प्रकार की शक्ति होती है जो मानव के शरीर के सभी अंगों की पूर्ति करती है। पिरामिड के अंदर ऐसी शक्ति है जिससे मानव उदारवादी, सहनशील, त्यागी व आत्मविश्वासी बनता है क्योंकि पिरामिड उदारता, त्याग, अहम् एवं अन्य आदर्श तत्वों...

  • गंगा: गोमुख गंगोत्री से गंगा सागर तक

    भारतीय संस्कृति की तीन महान आधारभूत वस्तुओं गौ, गंगा और गायत्री में से गंगा का विशेष महत्त्व है। गंगा की पवित्रता को वैज्ञानिक परीक्षणों से भी जांचा परखा गया है जिनमें इसे आरोग्यवर्धक और शुद्ध पाया गया। वर्तमान में तो पर्यटकों की बढ़ती संख्या की वजह से गंगा अपने उद्गम स्थल गंगोत्री और गोमुख...

  • हनुमान जी का ऐतिहासिक मेले का 27 से होगा आगाज

    -76 साल पहले खेत से निकली थी बजरंग बली की पताली मूर्ति -हर साल चावल की तरह ऊपर बढ़ती है हनुमान जी की मूर्ति उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में इटरा के हनुमान जी का ऐतिहासिक दो दिवसीय मेले का आगाज 27 नवम्बर से होगा। इसके लिये गांव में तैयारियां शुरू कर दी गई है। हर साल चावल के बराबर बढ़ने वाली...

  • इस मंत्र का जाप करने से बच्चों की याददाश्त होती है तेज

    कई बार आपका बच्चा कुछ याद करने की पूरी कोशिश करता है लेकिन पढ़े हुए को कुछ ही समय बाद भूल जाता है तो आप उसे माता सरस्वती की पूजा करने को कहें। इसी के साथ बच्चा अगर प्रतिदिन माता सरस्वती की पूजा करते समय इस मंत्र का जाप करें तो इससे विधाध्ययन में आ रही रूकावटें दूर होती हैं और बच्चे का मन पढ़ाई में...

  • घर में लक्ष्मी कैसे आएगी, जाने माँ लक्ष्मी देवी के सुविचार और कैसे करे लक्ष्मी जी का आवाहन

    आज कल जिसको देखो हर कोई लक्ष्मी पाना चाहता है...पर क्या आपको को पता है जंहा भगवन नारायण का वास होता है, लक्ष्मी जी का वास भी वंही होता है. अगर आप लक्ष्मी पूजन विदिवत करते हैं परन्तु भगवन नारायण का आवाहन नहीं करते तो लक्ष्मी जी आपसे रूठी रहेंगी. भगवन लक्ष्मी जी के पूजन से पहले ये विधिया जरूर...

  • मनी प्लांट को घर में लगाना माना जाता है शुभ..

    आपने देखा होगा अधिकतर घरों में लोग मनी प्लांट का पौधा लगाते हैं और लोगों की मान्यता होती है कि जैसे-जैसे ये पौधा बढ़ता है वैसे वैसे घर में बरकत होती है। मनी प्लांट के पौधे के बारे शास्त्रों में भी वर्णन किया गया है। शास्त्रों के अनुसार जिस घर में मनी प्लांट का पौधा होता है उस घर से नकारात्मकता दूर...

  • धन वृद्धि के लिए राशि अनुसार घर में लगाएं इस तरह के पौधे

    अगर घर में पौधे हों तो घर का वातावरण तो शुद्ध रहता ही है साथ ही ये सकारात्मक ऊर्जा के संचारक भी होते हैं। ज्योतिष शास्त्र में भी बताया गया है कि अगर अपनी राशि के अनुसार व्यक्ति घर में पौधे लगाए तो घर में सुख - शांति बनी रहती है। आप चाहें घर में कितने ही पौधे लगाएं उनमें से एक पौधा आपकी राशि के...

  • अगर आपके शरीर का कोई अंग फड़क रहा है तो समझ लें ये होने वाला है आपके साथ..

    कई बार हमारे शरीर का कोई अंग फड़कने लगता है और बुजुर्ग इससे भविष्य में क्या शुभ और अशुभ परिणाम सामने आएंगे इसके बारे में बताते हैं। आपको बता दें कि पौराणिक शास्त्रों के अनुसार आपके जीवन में होने वाली घटना का एहसास आपका शरीर आपको पहले से ही करा देता है बस उसे समझना होता है की वो हमे क्या इशारा कर रहा...

  • वृक्षों से संबंधित पौराणिक लोक कथाएं

    भारत में प्राचीन काल से ही वृक्षों का बहुत महत्त्व रहा है। कुछ वृक्षों की तो देवी-देवता के रूप में पूजा भी की जाती रही है मगर आज अनेक ऐसे असामाजिक तत्व हैं जो वृक्षों की अवैध कटाई करते हैं। फिर भी, भारत की अनेक आदिम जातियां वृक्षों को बहुत महत्व देती हैं तथा वृक्षों पर अपनी कुल्हाड़ी चलाने से पूर्व...

  • प्रतिकूल ग्रहों को अपने पक्ष में करने के लाल किताब के टोटके और उपाय, ये रखें सावधानियां

    ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हम सभी के जीवन की घटनाएं ग्रहों के द्वारा संचालित होती है। जीवन में आने वाले उतार-चढ़ाव और बदलती घटनाएं इस बात का प्रमाण होती हैं कि हम सोचते कुछ ओर है और होता कुछ ओर हैं। इसका अर्थ यह है कि एक ऊपरी शक्ति हैं जो हम सभी के जीवन को नियंत्रित करती हैं। जन्म के साथ ही हमारी...

  • कब होगी राम के आध्यात्मिक मूल्यों की धारणा

    रामायण महर्षि बाल्मीकी के द्वारा लिखित एक आध्यात्मिक पुस्तक है । हम यह जानते हैं कि महर्षि बाल्मीकी आध्यात्मिक जागृति के एक प्रेरक नायक थे। ईश्वरीय अनुभूति के द्वारा उनका जीवन दिव्य व महान हो गया था। जो भी ईश्वर की अनुभूति कर लेता है, वह दूसरों का शुभचिंतक हो जाता है व स्वयं की अनुभूतियों को समाज...

Share it
Top