बाल जगत/जानकारी: कैसे बने कार्टून कैरेक्टर

बाल जगत/जानकारी: कैसे बने कार्टून कैरेक्टर

जब भी तुम किसी कार्टून को टीवी पर देखते हो तो तुम्हारे ही क्या, साथ बैठे बड़ों के चेहरे पर भी मुस्कान आ जाती है। उसके करतब शुरू होने से पहले ही सब हंसने लगते हैं। तुम्हारे हाथ में एक बार रिमोट लग जाए तो सीधे कार्टून चैनल ही लगाने के लिए मचल जाते हो पर क्या तुम्हें पता है कि हमारे ये पसंदीदा कार्टून आखिर हम तक पहुंचे कैसे? किसने इनकी कल्पना की? आओ, यहां हम इनमें से कुछ के बारे में जानते हैं-

मिकी माउस: मिकी माउस करीब 93 साल से बच्चों को हंसा रहा हैै मतलब तुम्हारे पापा के दादाजी के समय से। इसके सामने आने की कहानी बड़ी मजेदार है। वॉल्ट डिज्नी को एक नए कार्टून कैरेक्टर की जरूरत थी जिससे कंपनी आगे चल सके। उनके चित्रकारों ने गाय, बैल, घोड़ा, मेंढक, बिल्ली और कुत्ते बनाए पर वॉल्ट को कोई भी कैरेक्टर पसंद नहीं आया।

एक दिन ऑफिस में वॉल्ट डिज्नी की नजर एक चूहे पर पड़ी जो उनकी मेज की दराज में उछल-कूद रहा था। उसका फुदकना उन्हें भा गया। उन्होंने अपने चित्रकारों से चूहे का कैरेक्टर बनाने को कहा। पहले उस चूहे को नाम दिया गया मोर्टिमर माउस पर वॉल्ट की पत्नी ने इसे नया नाम दिया मिकी माउस। तब से यह तुम सबका चहेता है।

पोपाय: 'पोपाय द सेलर मैन' की रचना क्रि सलर सेगर ने की थी। उन्होंने अपनी कॉमिक स्ट्रिप 'थिंबल थिएटर' के कई पात्रों में से एक मात्र पोपाय को बनाया था। 1933 में एक समुद्री अभियान में जहाज पर काम करने वाले कर्मचारी के रूप में छोटे से रोल में पोपाय नजर आया। लोगों के कहने पर पोपाय को फिर से और बड़े रोल के साथ लोगों के सामने लाया गया और तब से यह सबका पसंदीदा है।

सुपरमैन: सुपरमैन की कल्पना स्कूल में पढऩे वाले एक छात्र ने 1933 में की थी। उसका नाम था जेरी सीगल। उसकी लिखी कहानी 'द रेन ऑफ सुपरमैन' के चित्र बनाए थे उसके ही दोस्त जो शस्टर ने। आरंभ में सुपरमैन एक शक्तिशाली व्यक्ति था जो अपनी ताकत का प्रयोग गलत कामों के लिए करता था। उसे हम खलनायक कह सकते थे। सीगल को भी अपना यह पात्र ज्यादा पसंद नहीं आया।

तब छह महीने बाद उन्होंने नए रूप में सुपरमैन की कल्पना की। नया सुपरमैन क्रि प्टन ग्रह का निवासी था। वह लोगों की मदद करता था। नए पात्र को पहले कोई छापने को तैयार नहीं था पर जब यह छपकर आया तो यह हर किसी के दिल में बस गया।

स्पाइडरमैन: स्टेन ली को एक नया सुपर हीरो बनाने को कहा गया। वर्ष 1962 में एक दिन उन्होंने एक दीवार पर मकड़ी को जाल बनाकर अपने शिकार को फांसते देखा तो उन्होंने स्पाइडर की इस खूबी को अपने नए कैरेक्टर में भी डाल दिया और इस तरह स्पाइडरमैन का जन्म हुआ।

पोकेमोन: आज का सबसे हॉट गेम कार्टून पोकेमोन जापान के सतोशी ताजिरी की कल्पना है। वह बचपन में तोक्यो के अपने घर के बगीचे में तितली सहित कीड़े-मकोड़ों और कई बार मेंढकों को भी पकड़ते थे। बड़े होने पर उन्होंने सोचा कि अपने इस रोमांचक अनुभवों को वह बच्चों के साथ बांटेंगे। तब उन्होंने छोटे-छोटे कीड़ों को पकड़कर उन्हें ट्रेंड करने का खेल बनाया। बच्चों को ये गेम बहुत पसंद आए।

डोरेमोन: 1969 में जापानी लेखक फूजिको और फूजियो ने एक बिल्ले को कॉमिक्स हीरो बनाकर डोरेमोन की कल्पना की। पहले इसे कहानी के रूप में छापा गया। यह लोगों को इतना पसंद आया कि उस समय एक साथ छह किताबों में इसकी अलग-अलग कहानियां छपती थीं, इसलिए हर महीने इसके लेखकों को डोरेमोन की छह कहानियां लिखनी पड़ती थीं। 1973 में उसे कॉमिक्स कैरेक्टर के रूप में टेलीविजन पर लाया गया। एक बुद्धू से बच्चे नोबिता की मदद करने वाला यह बिल्ला हर बच्चे को पसंद आता है और वह सोचता है कि ऐसी मदद करने वाला कोई उसे भी मिल जाए।

धूम मचाने वाले कार्टून

गिनीज वर्ल्ड रेकॉर्ड में दर्ज है गारफील्ड:

गारफील्ड जिम डेविस द्वारा बनाई गई और रोजाना सिंडिकेट द्वारा अखबारों में प्रकाशित होने वाली कार्टून स्ट्रिप है। गारफील्ड एक बिल्ली है। 'गिनीज वर्ल्ड रेकॉर्ड' में इसका नाम सबसे ज्यादा अखबारों में छपने के कारण दर्ज है। गारफील्ड का जन्म 19 जून 1978 को हुआ था।

बहुत प्रसिद्ध और जाना-माना है बन्नी:

'बग्स बन्नी' एक एनिमेटिड खरगोश है। यह वार्नर ब्रदर्स के एनिमेशन प्रोडक्शन का प्रतीक चिंह मैस्कॉट है। इसकी खोज न्यूयार्क में 1938 में हुई थी। 2002 में इसे 'ग्रेटेस्ट कार्टून कैरेक्टर ऑफ ऑल टाइम' का नाम मिला।

ऑस्कर अवार्ड विजेता कार्टून कैरेक्टर:

डोनाल्ड डक ऐसा कार्टून कैरेक्टर है, जिसे 1943 में नाजीवादी हिटलर के विरूद्ध एक शॉर्ट फिल्म 'डेर फ्यूहरर्स फेस' के लिए अमेरिका का अकेडमी पुरस्कार (ऑस्कर अवार्ड) दिया गया है।

प्राइम टाइम पर सफल एनिमेटिड सीरीज:

सबसे अधिक प्राइम टाइम पर चलने वाली एनिमेटिड सीरीज 'सिंपसंस' है, जो 1987 में शुरू हुई थी।

सबसे महंगी एनिमेटिड फिल्म: अब तक की सबसे महंगी एनिमेटिड फिल्म अमेरिका की 'प्रिंस ऑफ इजिप्ट' है जिसकी लागत 60 मिलियन डॉलर यानी 4 अरब 2 करोड़ 63 लाख रूपए आई थी।

कार्टून नेटवर्क पर सबसे लंबी चलने वाली सीरीज: 'एड, एड्ड एन एड्डी' कार्टून नेटवर्क की सबसे लंबी चलने वाली सीरीज है। यह लगभग 11 सालों से चल रही है।

फिल्मों में कार्टून कैरेक्टर: कार्टून कैरेक्टर 'जोरो' को सबसे अधिक 69 फिल्मों में दिखाया गया है। वह ऐसा पहला कॉमिक स्ट्रिप कैरेक्टर था जिसे अमेरिका की प्रमुख फिल्म 'द मार्क ऑफ जोरो' में 1920 में दिखाया गया था।

ब्रूस ली और जैकी चेन की तर्ज पर हैं ये पोकेमोन: आजकल पोकेमोन गेम्स की धूम है। द पोकेमोन हिटमॉनली और हिटमॉनचान मार्षल आर्ट के महान अभिनेता ब्रूस ली और जैकी चेन पर आधारित कार्टून कैरेक्टर हैं। ये दोनों मानव रूपी पोकेमोन रोबोट हैं जो गेम्स में अपने विरोधियों को हराते हैं।

- नरेंद्र देवांगन

Share it
Top