बच्चे को दुलारिए मगर....

बच्चे को दुलारिए मगर....

बचपन में मां का भरपूर प्यार मिलने पर बच्चा बड़ा होकर संतुष्ट और सुखी इंसान बन जाता है। जिन बच्चों को उनकी माताएं सही-गलत का भेद नहीं समझा पाती, वे अनजाने में ही अपने बच्चे का भविष्य बिगाड़ देती हैं। नासमझ माताओं के बच्चे कठोर हो जाते हैं और समाज में अवांछित नागरिक बनकर रह जाते हैं।

बच्चों की गलतियों को कभी भी बढ़ावा नहीं देना चाहिए। बचपन की छोटी-सी गलती करने की आदत जवानी में बड़े उपद्रव का कारण बन सकती है इसलिए अपने बच्चे का हमेशा सही मार्गदर्शन करना चाहिए।

अगर बच्चा भूल से या जानबूझकर किसी दूसरे की छोटी सी भी चीज उठा लेता है तो उसकी इस गलती को नजर अंदाज न करके उसी समय उसे समझा देना चाहिए अन्यथा छोटी-छोटी वस्तुओं को उठाते-उठाते बच्चा बड़ा चीजों को भी उठाकर ला सकता है और उस समय उसे समझाना मुश्किल हो सकता है। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

स्कूल से अगर बच्चा किसी दोस्त की पेन्सिल या कोई पुस्तक उठा लाता है तो पहले तो उसे समझाइये कि ऐसा करना ठीक नहीं है और उससे वह पेन्सिल या पुस्तक वापस करने को कह दीजिए।

अगर बच्चा उस वस्तु को लौटा देता है तो उसकी तारीफ कीजिए और अगर नहीं लौटाता तो उसे डांटिए। बच्चा समझ जाएगा कि सचमुच उसने भूल की है और आगे से वह कभी अपनी इस भूल को नहीं दोहराएगा।

अगर आप खुद सोचेंगी कि चलो अच्छा हुआ, मुफ्त में यह पेन्सिल मिल गयी और उसकी इस छोटी-सी चोरी को बढ़ावा देंगी तो बच्चा समझेगा कि उसने ठीक ही किया है। चीजें उठाना उसे आसान लगेगा और चोरी करना उसकी आदत बन जायेगी। बड़ा होकर वह बड़ी चीजों को चुराएगा।

बड़ा होने पर उसकी चोरी की आदत पड़ जायेगी। तब उसको बुरा-भला कहने से कोई फायदा नहीं होगा। समय रहते अगर मां ने बच्चे को नहीं सुधारा तो यह उनकी बहुत बड़ी भूल होगी। वह अपने मातृत्व के कर्तव्य में बुरी तरह असफल हो जाएगी।

बड़ा होने पर वह बेटा यह महसूस करेगा कि उसकी मां ने बचपन में उसका ठीक तरह से मार्गदर्शन नहीं किया। अपने अपराधों के लिए वह मां को ही दोषी ठहरायेगा और फिर उसकी अपनी मां के प्रति इज्जत की भावना में कमी आ जाएगी। हो सकता है कि कभी आदतन या किसी दबाव में वह बच्चा जो अब जवान हो चुका है, अपने ही घर में रूपये-गहनों पर हाथ साफ करने लगे।

- पूनम दिनकर

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top