रिमझिम के तराने लेकर आयी बरसात

रिमझिम के तराने लेकर आयी बरसात

मुंबईं। फिल्मो में बरसात या उसमें फिल्माये गाने फिल्म का अहम हिस्सा रहे है और उनके बिना फिल्म की कल्पना ही नही की जा सकती है और इनका इस्तेमाल फिल्मकार अपनी फिल्म को हिट बनाने के लिये अक्सर करते आये है। फिल्म इंडस्ट्री का इतिहास देखा जाये तो सबसे पहले संभवत: वर्ष 1941 में प्रदर्शित फिल्म खजांची में बरसात पर आधारित सावन के नजारे है अहा अहा गीत फिल्माया गया था। इसके बाद भी बरसात पर आधारित कुछ गीत फिल्माये गये लेकिन वर्ष 1949 में प्रदर्शित फिल्म ..बरसात ..में फिल्म अभिनेत्री निम्मी पर ..बरसात में हमसे मिले तुम सजन ..गाना बारिश में फिल्माया गया जो बरसात पर आधारित पहला सुपरहिट गीत बना। यूं तो फिल्म इंडस्ट्री में ना जाने कितनी फिल्मे बनी होंगी जिसमें बारिश के गाने फिल्माये गये होंगे लेकिन वर्ष 1955 में प्रदर्शित फिल्म ..श्री 420 की बात कुछ और ही है । यूं तो फिल्म श्री 420 कई कारणो से याद की जाती है लेकिन फिल्म में राजकपूर और नरगिस बारिश में पर फिल्माया गाना ..प्यार हुआ इकरार हुआ ..का फिल्मांकान इतने सजीव तरीके से पेश किया गया कि इसकी याद दर्शको के दिल में आज भी ताजातरीन है । बरसात पर आधारित गीतो में वर्ष 1958 में प्रदर्शित फिल्म ..चलती का नाम गाड़ी..का नाम भी उल्लेखनीय है । तीन भाइयो की कहानी पर आधारित फिल्म की कहानी में बारिश से कोई मेल नही था लेकिन जब अभिनेत्री मधुबाला बारिश से भींगने से बचने के लिये अभिनेता किशोर कुमार के गैरेज में शरण लेती है तो उसे देख किशोर कुमार प्यार करने लगते है और उसे खुश करने के लिये ..एक लड़की भींगी भागी सी ..गीत गाते है तो यह फिल्म की जान बन जाती है और यह गीत आज भी सिने प्रेमी नही भूल पाये है ।

Share it
Share it
Share it
Top