नोएडा: शराब तस्करों के हमले में घायल भाकियू नेता की एक आंख हुई पूरी तरह खराब

नोएडा: शराब तस्करों के हमले में घायल भाकियू नेता की एक आंख हुई पूरी तरह खराब

नोएडा। भारतीय किसान यूनियन (भानू) के महानगर अध्यक्ष पर शराब माफियाओं ने बीती 7 जुलाई की शाम को उनके दफ्तर में घुसकर जानलेवा हमला कर दिया था। इस घटना में उनके बायीं आंख की रोशनी चली गई है। आरोप है कि पुलिस ने मामले में मारपीट, जान से मारने की धमकी देने, गाली गलौच करने समेत आठ धाराएं लगाई हैं। जबकि पुलिस को हत्या के प्रयास की धारा लगानी चाहिए थी। कोतवाली सेक्टर 49 पुलिस अभी तक एक भी आरोपी को नहीं पकड़ पाई है। मूल रूप से हाथरस के रहने वाले राजेश उपाध्याय सेक्टर-49 बरौला में रहते हैं। वह भारतीय किसान यूनियन (भानू) के जिलाध्यक्ष हैं। बीती 7 जुलाई को वह बरौला स्थित अपने कार्यालय में दोस्त के साथ बैठे थे। उनके दोस्त की कार कार्यालय के बाहर खड़ी थी। इसी बीच काली फिल्म लगी कार उनके दोस्त की कार में टक्कर मार दी। वह अपने दोस्त के साथ कार्यालय से बाहर गए। देखा को टक्कर मारने वाली कार में बरौला निवासी कालू व भूरा थे। दोनों से उनकी कहासुनी और गाली-गलौच हो गई। दोनों ने कॉल कर शंकर, हर्रू व चार अन्य युवकों को बुला लिया। आठ युवकों ने राजेश उपाध्याय पर हमला बोल दिया। आरोपियों ने चाकू, राड से राजेश पर वार कर दिया। बदमाशों ने उन्हें पीटकर घायल कर फरार हो गए थे। राजेश ने बताया कि राजेश ने कालू और भूरा की शराब तस्करी करने पर पुलिस से शिकायत कर दी थी। रंजिशन जानलेवा हमला किया गया था। डॉक्टरों ने उनसे कहा कि उनकी बायें आंख की रोशनी नहीं आ सकती है। वहीं पुलिस पर मामले को गंभीरता से न लेकर हल्की धाराएं लगाने का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस के संरक्षण में अभी भी आरोपी शराब की तस्करी करते हैं। अभी तक पुलिस एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

Share it
Share it
Share it
Top