ग्रेटर नोएडा: ऑटो गैंग ने सॉफ्टवेयर इंजीनिकर को बंधक बना कर लूटा

ग्रेटर नोएडा: ऑटो गैंग ने सॉफ्टवेयर इंजीनिकर को बंधक बना कर लूटा

ग्रेटर नोएडा। सेक्टर 2 में ऑटो में लिफ्ट देकर बदमाशों ने सॉटवेयर इंजीनियर को बंधक बना लिया। बदमाशों ने पीडिघ्त से मारपीट कर उससे लैपटॉप बैग, मोबाइल, और पर्स लूट लिया। बदमाश पीडिघ्त को सेक्टर 26 के पास फेंककर फरार हो गए। पीडिघ्त ने कोतवाली सेक्टर 20 में घटना की एफआईआर दर्ज कराई है।
इंदिरापुरम गाजियाबाद निवासी नीरज द्विवेदी सेक्टर 2 स्थित एचसीएल कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। वह 14 जुलाई की रात कंपनी से घर के लिए निकले। सेक्टर 2 में वह सेक्टर 62 जाने के लिए एक ऑटो में बैठे। ऑटो में पहले से ही तीन युवक बैठे थे। कुछ दूर चलने पर ऑटो सवार बदमाशों ने पीडित से मारपीट कर उसे बंधक बना लिया। विरोध करने पर चाकू मारने की धमकी दी। इस दौरान बदमाशों ने पीडिघ्त का लैपटॉप, मोबाइल और पर्स लूट लिया। आरोपी बदमाश पीडिघ्त को चलते से ऑटो से सेक्टर 26 के पास फेंककर फरार हो गए। पीडिघ्त ने किसी तरह घटना की सूचना परिजनों को दी। पीडिघ्त अगले दिन कोतवाली सेक्टर 20 पहुंचा और घटना की एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है।
रास्ता पूछने के बहाने बदमाशों ने युवक को लूटाः वहीं मूलरूप से दानापुर बिहार निवासी सुशील परिवार के साथ गढ़ी चौखंडी में रहते हैं। वह सेक्टर 63 स्थित एक कंपनी में काम करते हैं। शनिवार रात 10.30 बजे वह साइकिल से कंपनी से घर लौट रहे थे। गढ़ी चौखंडी से पहले हनुमान मंदिर के पास बाइक सवार तीन बदमाशों ने उन्हें रास्ता पूछने के बहाने रोक लिया। रूकते साथ ही एक बदमाश ने उन पर तमंचा तान दिया। बदमाश पीडित से मोबाइल और पर्स लूटकर फरार हो गए। पीडिघ्त ने घटना की शिकायत कोतवाली फेज 3 पुलिस से की है।

Share it
Share it
Share it
Top