सूरजपाल अम्मू लाए गए भोंडसी जेल, 2 फरवरी तक बढ़ाई गई न्यायिक हिरासत

सूरजपाल अम्मू लाए गए भोंडसी जेल, 2 फरवरी तक बढ़ाई गई न्यायिक हिरासत

गुरुग्राम। करणी सेना के महासचिव सूरजपाल अम्मू को रोहतक पीजीआई से उपचार कराने के बाद गुरुग्राम की भोंडसी जेल वापस लाया गया है। इससे पहले अम्मू की पुलिस कस्टडी में तबीयत बिगड़ने के कारण रोहतक पीजीआई में भर्ती करवाया गया था। जहां से डॉक्टरों ने जांच के बाद उन्हें वापस भेज दिया है। वहीं अम्मू की न्यायिक हिरासत दो फरवरी तक बढ़ा दी गई है। अम्मू पर 107/151 मामले में तीन दिन के रिमांड पर भेजा था।
सूरजपाल अम्मू की न्यायिक हिरासत सोमवार 29 जनवरी को ही खत्म होने वाली थी लेकिन तबीयत खराब होने के कारण कल उन्हें कोर्ट में पेश नहीं किया जा सका था। ऐसे में अम्मू को 2 फरवरी को डीसीपी हेडक्वार्टर के सामने पेश किया जाएगा। जिसके बाद पुलिस अम्मू को भोंडसी जेल में दर्ज केस को लेकर पोडक्शन वारंट पर ले सकती है।
उल्लेखनीय है कि अम्मू ने सोमवार सुबह सीने में दर्द की शिकायत की थी, जिसके बाद उन्हें गुरुग्राम के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि वहां से डॉक्टरों ने उन्हें रोहतक के पीजीआई अस्पताल रेफर कर दिया था। डॉक्टरों ने अम्मू का इलाज करने का बाद वापस भोंडसी जेल भेज दिया है। बिगड़ी तबीयत के चलते अम्मू की 2 फरवरी तक न्यायिक हिरासत बढ़ा दी गई है। बतादें कि फिल्म पद्मावत के विरोध को लेकर सूरजपाल अम्मू काफी विवादों में हैं। पद्मावत का विरोध करते हुए अम्मू ने अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की नाक काटने वाले को इनाम देने की घोषणा की थी, इसके बाद उन्हें बीजेपी से निलंबित कर दिया गया था।

Share it
Top