कुमार विश्वास को लोकसभा उपचुनाव लड़ाने की मांग

कुमार विश्वास को लोकसभा उपचुनाव लड़ाने की मांग


नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी( आप) के प्रमुख नेता कुमार विश्वास को अजमेर संसदीय सीट से उपचुनाव लडाने का प्रस्ताव लेकर पार्टी की राजस्थान इकाई के कई नेता राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) से मुलाकात करने दिल्ली आये हैं।
पार्टी की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य और राष्ट्रीय किसान न्याय आंदोलन के राज्य प्रभारी सुनील अगीवाल की अगुवाई में पांच सदस्यीय एक दल दिल्ली आया हुआ है और यह राजनीतिक मामलों से जुडे निर्णय लेने की सर्वोच्च संस्था पीएसी से मुलाकात कर विश्वास को अजमेर से लोकसभा उपचुनाव लडाने का अनुरोध करेगा ।
अगीवाल के अलावा राज्य की सोशल मीडिया के प्रभारी अभिषेक पांडे. कानून प्रकोष्ठ के प्रमुख पूरन चंद भंडारी . राज्य इकाई सदस्य विवेक जोशी और विजय मिश्रा शामिल हैं 1
अगीवाल ने बातचीत में कहा कि राजस्थान के पार्टी मामलों के प्रभारी विश्वास पिछली बार जब राज्य में आये थे तो वहां कार्यकर्ताओं ने उनसे लोकसभा सीट से उपचुनाव लडने का अनुरोध किया था।उन्होंने कहा कि राज्य में संगठन को खडा करने का काम पूरा हो चुका है ।
उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के विश्वास से अजमेर लोकसभा उपचुनाव लडने के अनुरोध पर पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा था कि उम्मीदवार के चयन का काम पीएसी करती है और यदि उन्हें प्रत्याशी बनाया जाता है तो वह चुनाव लडेंगे।
विश्वास को अजमेर से लोकसभा उपचुनाव लडाने की मांग को राजनीतिक हल्कों में दिल्ली से राज्यसभा भेजने की उनकी दावेदारी को समाप्त करने की नजर से देखा जा रहा है ।
दिल्ली से राज्यसभा की तीन सीटें रिक्त हो रही हैं, जिन पर अगले माह चुनाव होना है। दिल्ली विधानसभा में आप के बहुमत को देखते हुए तीनों ही सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार चुने जायेंगे। फिलहाल इन सीटों पर कांग्रेस का कब्जा है ।
अगीवाल ने कहा " हमारी राय में विश्वास को अजमेर उपचुनाव लडना चाहिए और इसके लिए पीएसी के समक्ष प्रस्ताव रखेंगे । विश्वास हमेशा कार्यकर्ताओं से कहते रहे हैं कि अजमेर से उनका खासा नाता है 1"
गौरतलब है कि 2014 में हुए आम चुनाव में विश्वास ने अमेठी से लोकसभा का चुनाव लडा था किंतु हार गए थे। विश्वास ने हालांकि हाल ही में कहा था कि पार्टी को अपने कोटे से उन्हें राज्यसभा भेजना चाहिए । कई मौकों पर विश्वास पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के कामकाज को लेकर अपनी नाराजगी भी जाहिर कर चुके हैं।

Share it
Top