प्रद्युम्न मामला : अहमद मीर लड़ेंगे आरोपी छात्र का मुकदमा

प्रद्युम्न मामला : अहमद मीर लड़ेंगे आरोपी छात्र का मुकदमा

नयी दिल्ली । गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार छात्र का मुकदमा बहुचर्चित आरुषि हत्याकांड केस जीतने वाले अधिवक्ता तनवीर अहमद मीर लड़ेंगे1 केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने इस मामले में स्कूल के ही छात्र को गिरफ्तार किया है। आरोपी नाबालिग है ।
मीर ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वह आरोपी की तरफ से इस मुकदमे को लड़ेंगे। इसके लिए आरोपी के पिता से उनकी बातचीत चल रही है। बातचीत और औपचारिकताएं पूरी हो जाने पर वह आरोपी छात्र की तरफ से मुकदमे की पैरवी करेंगे।
हरियाणा पुलिस ने इस मामले में स्कूल की बस के एक कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया था. किंतु सीबीआई द्वारा छात्र को गिरफ्तार करने के बाद कंडक्टर को इसी सप्ताह जमानत मिल गई है 1 प्रद्युमन की हत्या आठ सितम्बर को स्कूल के ही शौचालय में की गई थी। हत्या के सिलसिले में बस कंडक्टर को गिरफ्तार गया था. लेकिन प्रद्युमन के पिता सीबीआई से जांच की मांग कर रहे थे।
सीबीआई ने सात नवंबर को ही स्कूल के 11 वीं कक्षा के छात्र को गिरफ्तार किया था। छात्र से पूछताछ में जो सामने आया उसने प्रद्युम्न की हत्या स्कूल में अभिभावक. शिक्षक बैठक (पीटीएम) और स्कूल की परीक्षा को आगे बढाने के लिए की थी।
गौरतलब है कि आरुषि की माता-पिता को सीबीआई की जांच के आधार पर गाजियाबाद अदालत ने हत्या का दोषी ठहराया था। मीर ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में यह मामला लड़ा और सबूतों के अभाव में इसी वर्ष अक्टूबर में फैसले को रद्द कर तलवार दंपती को बरी किया गया।
इस मामले में रेयान समूह के मालिकों पिंटो परिवार को पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने जमानत दे दी है। ऐसी खबरें है कि पिंटो परिवार की जमानत को चुनौती देने के लिए प्रद्युम्न के परिवार कल उच्चतम न्यायालय का रुख करेगा ।

Share it
Top