दिल्ली के विभिन्न इलाकों से दमकल को मिली आगजनी की 204 कॉल

दिल्ली के विभिन्न इलाकों से दमकल को मिली आगजनी की 204 कॉल

नई दिल्ली। सुप्रीप कोर्ट द्वारा पटाखा बेचने पर रोक लगाने के बाद इस बार दीपावली पर राजधानी के लोगों ने पटाखे कम जलाए। जिसके चलते इस बार 204 जगहों पर ही आगजनी की घटनाएं हुई। जबकि वर्ष 2016 में यह आंकड़ा 300 के पार पहुंच गया था।
दमकल विभाग के अनुसार, 18 अक्टूबर की रात 12 बजे से 19 अक्टूबर की रात 12 बजे तक आग लगने की कुल 204 कॉल दमकल को मिली। वर्ष 2016 में दीपावली के दिन यह आंकड़ा 300 था। दमकल विभाग के अनुसार, 12 बजे (बीती रात) से नौ बजे तक 139 कॉल मिली। वहीं नौ से 11 बजे के बीच छोटी घटनाओं के चलते 62 कॉल दमकल विभाग को मिली।
वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, पूर्वी दिल्ली के गांधी नगर में एक गोदाम में बीती रात करीब 10 बजे आग लगने की सूचना मिली थी। दमकल की 22 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। दमकल विभाग के अनुसार, दिल्ली में दमकल के करीब 59 स्थायी अग्निशमन स्टेशन हैं। दीवाली के त्यौहार को देखते हुए दमकल विभाग ने दिल्ली के विभिन्न इलाकों में 28 अस्थायी स्टेशन बनाए।
कई इलाकों को किया था चिन्हित
दमकल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, दीपावली के अवसर पर आगजनी की घटनाओं से निपटने के लिए दमकल विभाग ने विशेष इंतजाम किए थे। ऐसी जगहों को पहले ही चिन्हित किया गया था, जहां आग लगने की अधिक संभावना रहती है। दमकल ने करीब 28 जगहों पर दमकल के अस्थायी केन्द्र बनाए थे। दमकल की गाड़ियों के अलावा बड़ी कार व पानी का टैंक लेकर चलने वाली बाइकें भी तैनात की गई थीं। साथ ही दमकल के सभी 59 केन्द्रों पर 200 से अधिक गाड़ियां व 1500 कर्मचारी दीपावली की रात तैनात किए गए थे।

Share it
Top