गुरुग्राम:गैंग बनाने से पहले चढ़े पुलिस के हत्थे, हथियारों के साथ गिरफ्तार

गुरुग्राम:गैंग बनाने से पहले चढ़े पुलिस के हत्थे, हथियारों के साथ गिरफ्तार


गुरुग्राम। नया साल मनाकर आ रहे लोगों को लूटने की फिराक में घूम रहे दो युवकों को पुलिस ने हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से एक पिस्तौल, दो रिवाल्वर व दो जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने मंगलवार को दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया। अदालत से उन्हें जेल भेज दिया। पुलिस प्रवक्ता ने दावा किया कि आरोपियों ने पूछताछ में आधा दर्जन वारदातों का खुलासा किया है।

चैकिंग के दौरान आए पुलिस की पकड़ में

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि 31 दिसम्बर की रात अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम की 2 टीमें नव वर्ष के आगमन पर लगाए गए स्पेशल नाका ड्यूटी पर तैनात थी। तभी पुलिस ने दो युवकों को संदेह के आधार पर रोक कर पूछताछ शुरू कर दी। जांच में दोनों युवक सही ढंग से जवाब नहीं दे पाए। जब कड़ी पूछताछ की गई तो पता चला कि दोनों युवक अपराधी किस्म के हैं और वारदात करने जा रहे थे।

न्यू इयर मनाकर आ रहे लोगों को था लूटने का इरादा

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आरोपियों की पहचान राहुल पुत्र श्रीचन्द निवासी गाँव बिस्सर, मेवात और त्रिशूम निवासी कोटा खेड़वला, मेवात के रूप् में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अवैध हथियार बरामद होने पर मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि आरोपी त्रिशूम ने पुलिस पूछताछ में बताया कि हुड्डा जिमखाना से जो व्यक्ति रात को न्यू इयर पार्टी मनाकर आते उन्हें पिस्तौल की नोक पर लूटने का प्लान था ।

दोबारा गैंग बनाना चाहता था राहुल: पुलिस प्रवक्ता

आरोपी राहुल से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि वो 3 पिस्तौल मेवात के बेरी गांव से लेकर आया था और अपने पुराने साथियो के साथ जो उसके साथ पहले भी हथियार के बल पर लूट व छीनाझपटी की वारदातों में शामिल रहे है उनको दोबारा से एक्टिव करके एक गैंग बनाकर गुरुग्राम में लूट और छीना झपटी की वारदातों को अंजाम देना था। वह पहले भी लूट गुरुग्राम व मानेसर में करीब आधा दर्जन वारदातों को अंजाम दे चुका है।


Share it
Top