भाजपा ने तोड़ी किसानों की कमर, 100 से 1000 गुणा बढ़ा दी स्टांप ड्यूटी

भाजपा ने तोड़ी किसानों की कमर, 100 से 1000 गुणा बढ़ा दी स्टांप ड्यूटी

भाजपा ने तोड़ी किसानों की कमर, 100 से 1000 गुणा बढ़ा दी स्टांप ड्यूटी

गुरुग्राम। स्टांप ड्यूटी में एकाएक हुई वृद्धि से आम जनता के अलावा अब किसानों का गुस्सा जल्द ही सड़क पर दिखाई देगा। किसानों का आरोप है भाजपा सरकार एक के बाद एक फरमान जारी कर गरीबों की कमर तोड़ रही है। एक तो महंगाई उस पर स्टांप ड्यूटी में 100 से 1000 गुणा की बढ़ोत्तरी को लोगों ने अन्याय बताया है। मंगलवार को किसानों ने स्टांप ड्यूटी में हुई वृद्धि को वापस लेने के लिए तहसीलदार रणविजय सिंह सुल्तानिया को ज्ञापन सौंपा।

किसान नेता राव मान सिंह, पंडित नित्यानंद शर्मा, सुखबीर तंवर, पूर्व पार्षद नीरु शर्मा, सरपंच एसोसिएशन के प्रधान एवं अधिवक्ता रमेश काकस आदि ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा हाल ही में पुनर्निधारित स्टाम्प ड्यूटी में बेहताशा वृद्धि कर दी गई। पुनर्निर्धारित स्टाम्प फीस में मुख्त्यारनामा, 300 से बढ़ा कर एक हजार रुपये, ब्याना 2 रुपये 25 पैसे से बढ़ा कर 2000 रुपये, किसान क्रेडिट कार्ड 100 रुपये से बढ़ा कर 2000 रुपये, शिक्षा ऋण पर 310 से 3000 रुपये, ऋण पर 10 रुपये से बढ़ाकर 2000 रुपये, ओसीसी पर 310 से तीन हजार रुपये, रहनामा 310 से बढ़ाकर 3100 रुपये बढ़ाकर सरकार ने प्रदेश की जनता की कमर तोड़ने का काम किया है। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

किसान नेता ने बताया कि स्टांप राशि 100 गुणा से 1000 गुणा बढ़ा दी है। इससे किसानों व छोटे दुकानदारों को महंगाई की असहनीय मार पड़ी है। इस वर्ग के साथ सरासर अन्याय है। अब छोटे दुकानदारों व किसानों को बैंकों से कर्जा लेना मुश्किल हो जाएगा। इससे लोन का लगभग चैथा हिस्सा लोन लेने के खर्चें में लग जाएगा। किसानों ने मांग करते हुए कहा कि सरकार तुरंत प्रभाव से इस तुगलकी फरमान को वापस ले।

किसान नेता ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार ने फीस बढ़ाने के निर्णय को वापस नहीं लिया तो इलाके की जनता सड़क पर प्रदर्शन के लिए उतरने पर मजबूर होगी। किसानों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर प्रदर्शन के दौरान कोई अनहोनी की घटना होगी तो उसकी जिम्मेदारी भी सरकार की होगी।


Share it
Top