गुरुग्राम: व्यापारी से पांच लाख की रंगदारी मांगने वाला गिरफ्तार

गुरुग्राम: व्यापारी से पांच लाख की रंगदारी मांगने वाला गिरफ्तार



गुरुग्राम। अगर आप अपने ड्राइवर पर अधिक विश्वास करते हैं तो सावधान हो जाइए। कहीं वही ड्राइवर आपके लिए खतरा साबित ना हो जाए। ऐसा ही एक मामला सोहना में देखने को मिला। ड्राइवर ने अपने ही मालिक के पास पांच लाख की रंगदारी का धमकी भरा पत्र दे दिया। पत्र में यहां तक कह दिया पैसे नहीं दिए गए तो उसके बच्चों को जान से मार दिया जाएगा। मामला 21 नवम्बर का था। पुलिस ने गुरुवार की रात आरोपित को सोहना से दबोच लिया।

यूपी के शेरगढ़ गांव में बुलाया था रंगदारी की रकम लेकर

सोहना के हार्डवेयर के व्यापारी श्याम सुंदर को 21 नवम्बर को घर में धमकी भरा पत्र मिल था। पत्र में पांच लाख रुपये की रंगदारी की मांग की गई थी। यहां तक कि रंगदारी नहीं देने पर व्यापारी के बच्चों को जान से मारने की धमकी दी थी। उधर, पांच लाख रुपये लेकर उत्तर प्रदेश के शेरगढ़ गांव में बुलाया गया था। गूंगाभाई के नाम से लिखे गए पत्र को सूचना मिलते ही पुुलिस ने अपने कब्जे में लिया और जांच पड़ताल शुरू कर दी।

रात के समय खाना खाते वक्त किया घर से गिरफ्तार

पुलिस ने जब जांच शुरू की तो उसका शक की सूईं ड्राइवर पर गया। पुलिस ने तुरंत रंगदारी मांगने वाले आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। जिसकी पहचान चन्द्रभान उर्फ निवासी वार्ड-18 सोहना के रूप में हुई है। पुलिस ने गुरुवार की रात घर में खाना खाते वक्त आरोपित को दबोच लिया। पूछताछ में आरोपित ने खुलासा किया कि वह व्यापारी के पास आठ साल से काम कर रहा है, तो पुलिस भी दंग रह गई। चंद्रभान ने पुलिस को बताया कि उसकी हालत खराब थी और उसी ने व्यापारी को पत्र लिखा था।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

आरोपित ने कबूला गुनाह: इंस्पेक्टर

सोहना सिटी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर भारतेन्द्र कुमार ने बताया कि रंगदारी मामले में गिरफ्तार सोहना निवासी चन्द्रभान ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उसने कब और कैसे रैगिंग करने के बाद रंगदारी का पत्र डालने की योजना बनाई। योजना को कैसे कब अंजाम देना है। यह सब पहले से अपने दीमाग में बनाई योजना पर काम किया। पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।


Share it
Top