दिल्ली महिला आयोग ने प्रधानमंत्री से की एम जे अकबर को हटाने की मांग

दिल्ली महिला आयोग ने प्रधानमंत्री से की एम जे अकबर को हटाने की मांग


नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर मांग की है कि वह अपने मंत्रिमंडल के साथी एम. जे अकबर को तुरन्त मंत्री पद से बर्खास्त करें।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा कि सरकार तुरंत एक जांच समिति बैठाए जिसमें 'मी टू अभियान' के तहत आने वाली शिकायतों की निष्पक्ष जांच हो सके और उन पर कार्रवाई करके महिलाओं को न्याय दिलाया जा सके।

स्वाति मालिवाल ने चिट्ठी में लिखा है कि जिस तरह से 'मी टू' कैंम्पेन के माध्यम से महिलाएं खुलकर अपने साथ हुए यौन शोषण के खिलाफ सामने आई हैं और अपनी बात को सोशल मीडिया के माध्यम से सामने रखा है वह स्वागत योग्य है। मालिवाल ने आगे लिखा कि 'मी टू' कैंपेन की जड़ हमारे शासन व्यस्था की कमजोरी का नतीजा है। इस सिस्टम के चलते ही महिलाएं अवाज उठाने से डरती है। आपसे गुजारिश है कि देशभर में पुलिस के संसाधन और जवाबदेही को बढ़ाएं साथ ही फास्ट ट्रैक कोर्ट बनवाएं जिससे महिलाओं को न्याय जल्द और हर हाल में मिल सके। इससे लोगों के मन में सिस्टम के प्रति विश्वास बढ़े और अपराधियों के मन में डर पैदा हो।

उल्लेखनीय है कि मी टू कैंपेन के तहत केन्द्रीय मंत्री एम. जे अकबर का भी नाम आया है। उन पर सात महिला पत्रकारों ने यौन शोषण करने का आरोप लगाया है।


Share it
Top