किसान विरोधी है केंद्र सरकार..किसानों को राहत देने की बजाय उन्हें ऋण के बोझ और सुसाइड की ओर धकेला जा रहा: येचुरी

किसान विरोधी है केंद्र सरकार..किसानों को राहत देने की बजाय उन्हें ऋण के बोझ और सुसाइड की ओर धकेला जा रहा: येचुरी


नई दिल्ली.। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) महासचिव सीताराम येचुरी ने आज कहा कि जिस तरह से अपनी मांगों को लेकर दिल्ली प्रदर्शन के लिए आ रहे किसानों के साथ बर्रबरता हुई है, उससे साफ है कि केंद्र सरकार किसान विरोधी है।

येचुरी ने मंगलवार को कहा कि आज की घटना से दोबारा इस बात की पुष्टि होती है कि केन्द्र सरकार किसान विरोधी है। संकट से जूझ रहे किसानों को राहत देने की बजाय उन्हें ऋण के बोझ और सुसाइड की ओर धकेला जा रहा है। हमने स्वतंत्रता दिवस के बाद से आज तक कभी ऐसा नहीं देखा।

उल्लेखनीय है कि भारतीय किसान यूनियन के झंडे तले बड़ी तादाद में किसान अपनी मांगों को लेकर दिल्ली में विरोध प्रदर्शन के लिए आ रहे थे किंतु किसानों को दिल्ली की सीमा पर ही बैरिकेटिंग कर रोक दिया गया। उग्र किसान जबरदस्ती दिल्ली में प्रवेश करना चाह रहे थे। पुलिस ने आंसू गैस के गोले और पानी की बौछार कर रोकना चाहा किंतु किसानों पर इसका असर न होता देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया।


Share it
Top