गुरुग्राम की 15, फरीदाबाद की नौ कॉलोनियों के विकास का रास्ता साफ

गुरुग्राम की 15, फरीदाबाद की नौ कॉलोनियों के विकास का रास्ता साफ

चंडीगढ़। प्रदेश के उन पालिका क्षेत्रों में रह रहे लोगों के लिए राहत की खबर है, जो नागरिक सुविधा और बुनियादी ढांचे की कमी से जूझ रहे हैं। जमीन की रजिस्ट्री, नक्शे पास कराने, बिजली, पीने के पानी की उपलब्धता, गंदे पानी की निकासी को लेकर सरकार ने गुरुग्राम की 15 तथा फरीदाबाद की नौ कॉलोनियों में विकास शुल्क की दर तय करते हुए इनके विकास की रणनीति को मंजूरी प्रदान कर दी है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कॉलोनियों को तीन श्रेणी में बांटते हुए इनके लिए विकास शुल्क तय किया है, जिसे अदा करने के बाद नागरिकों को सभी बुनियादी सुविधाएं शहरी स्थानीय निकाय विभाग मुहैया कराएगा।
शुक्रवार को जानकारी देते हुए शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने बताया कि प्रदेश की पालिकाओं में नागरिक सुविधा एवं बुनियादी ढांचे की कमी वाले क्षेत्रों को लेकर बनाई गई नीति के अनुसार, मुख्यमंत्री मनोहर ने गुरुग्राम नगर निगम की 15 व फरीदाबाद नगर निगम की नौ कॉलोनियों के विकास शुल्क की दरों को मंजूरी प्रदान की है।
जैन ने बताया कि कलेक्टर रेट के आधार पर ही विकास शुल्क की दर तय की गई है। 10 हजार रुपये प्रति वर्ग गज से ऊपर के कलेक्टर रेट वाली कॉलोनी को ए-श्रेणी में लेते हुए विकास शुल्क 1250 रुपये प्रति वर्ग गज, 7500 रुपये सेर रुपये वर्ग गज कलेक्टर रेट वाली कॉलोनी को बीश्रेणी में लेते हुए विकास शुल्क 1000 रुपये प्रति वर्ग गज तथा 7500 रुपये प्रति वर्ग गज से कम कलेक्टर रेट वाली कॉलोनी को सी-श्रेणी में लेते हुए विकास शुल्क 750 रुपये प्रति वर्ग गज तय किया गया है। गुरुग्राम नगर निगम की 47 कॉलोनियों में से 15 कॉलोनी तथा फरीदाबाद नगर निगम की 25 में से नौ कॉलोनी समीक्षा में तय की गई शर्तों को पूरा कर चुकी हैं।
मंत्री जैन ने बताया कि इन कॉलोनियों में यह राशि वहां की रिहायशी कल्याण संघ और संबंधित निगम के संयुक्त खाते में ली जाएगी। इसके बाद निगम इन क्षेत्रों में पेय जलापूर्ति, सीवरेज, रोड, स्ट्रीट लाइट, भवन नक्शा तथा प्लाट मालिक रजिस्ट्री हासिल कर सकेंगे।
इन कॉलोनियों को लिया गया
बुनियादी ढांचा मजबूत करने के लिए गुरुग्राम नगर निगम क्षेत्र की केनकान एन्क्लेव पार्ट एक व दो, भीम कॉलोनी, हरि नगर एक्सटेंशन पार्ट एक व दो, श्रीराम कॉलोनी, देवीलाल एक्सटेंशन, न्यू ज्योति पार्क कॉलोनी, पटेल नगर एक्सटेंशन, शिव नगर, विकास नगर, टीकरी, घसौला गांव, नाहरपुर रूपा, झाडसा गांव के साथ लगता बाहरी क्षेत्र, सूरत नगर फेज एक एक्सटेंशन और हरसरू ए-श्रेणी में लिए गए हैं, जबकि फरीदाबाद नगर निगम में दीपाली एन्कलेच एक्सटेंशन, नंबरदार कॉलोनी एक्सटेंशन, सूर्या कॉलोनी एक्सटेंशन, डबुआ कॉलोनी एक्सटेंशन दो, जैलदार कॉलोनी, महाबीर कॉलोनी, सुभाष नगर ए श्रेणी व भारत कॉलोनी एक्सटेंशन दो, गाजीपुर कॉलोनी को बी-श्रेणी में लिया गया है।

Share it
Top