आशाआें ने प्रधान मंत्री का पुतला फूंका

आशाआें ने प्रधान मंत्री का पुतला फूंका

गुरुग्राम। हड़ताल केे तीसरेे दिन आज आशाकर्मियों ने यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोेदी का पुतला फूंका। आशा वर्करों पिछले 13 दिनोें सेे धरनेे पर हैं और 27 जनवरी से चार दिन की हड़ताल पर हैं।
आज आशाकर्मी प्रधान मीरा देेवी की अध्यक्षता मेें लघु सचिवालय पर इकट्ठा हुई और सुबह दस बजेे से दोपहर दोे बजेे तक धरना दिया। बाद में वहां से चलकर सोहना चौक से होते हुए नारे लगाते हुए पुरानी कचहरी के मोर चौक पहुंची। वहां उन्होंने गोल दायरा बनाकर प्रधान मंत्री का पुतला जलाया। कल उन्होंने हरियाणा केे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का पुतला जलाया था।
हड़ताली आशाकर्मियोें की प्रमुख मांगों मेें स्थायी करने औेर न्यूनतम वेेतन देनेे की मांगें शामिल हैं।इस अवसर पर वक्ताओं ने केंद्र व राज्य सरकार की महिला विरोधी नीतियों की घोर आलोचना करते हुए कहा कि 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' का नारा देने वाले सरकार में बैठे लोग कहां हैं? वे आकर आशा वर्करों की सुध क्यों नहीं ले रहे, आशा भी इस देश एवं प्रदेश की बेटियां हैं, जो मात्र 1000 रुपये प्रति माह में 24 घंटे काम कर रही हैं। आशाओं ने कहा कि जब तक उनकी मांगों का समाधान नहीं होगा हड़ताल जारी रहेगी।

Share it
Top