प्रद्युम्न हत्या मामले में कंडक्टर ही शामिल : पुलिस

प्रद्युम्न हत्या मामले में कंडक्टर ही शामिल : पुलिस

गुरुग्राम। हरियाणा पुलिस ने कहा है कि रेयान स्कूल के दूसरी कक्षा के छात्र सात वर्षीय प्रद्युम्न की हत्या की घटना में बस कंडक्टर अशोक कुमार ही शामिल था।सोहना के सहायक पुलिस आयुक्त बिरेम सिंह ने आज संवाददाताओं से कहा कि हत्या के आरोप में गिरफ्तार बस कंडक्टर अशोक कुमार से पूछताछ पूरी कर ली गयी है।
उसकी पुलिस हिरासत आज पूरी हो गयी।पुलिस को जो भी जानकारी चाहिए थी वह उसने बता दी है और पुलिस उससे की गयी पूछताछ से संतुष्ट है। सिंह ने कहा कि यह स्पष्ट हो गया है कि प्रद्युम्न की हत्या की घटना में केवल अशोक कुमार ही शामिल था।
उसने ही छात्र की हत्या की और इस घटना में कोई अन्य व्यक्ति शामिल नहीं था। स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के संबंध में पूछे जाने पर सिंह ने कहा कि यह मामला अलग है और इस बारे में दो लोगों से पूछताछ की जा रही है।
दो छात्रों ने बताया है कि प्रद्युम्न की हत्या से पहले बस कंडक्टर शौचालय में मौजूद था।गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त के शनिवार के इस बयान पर कि इस घटना में आरोप पत्र सात दिन के भीतर दाखिल कर दिया जायेगा,श्री सिंह ने कहा कि वह अपनी तरफ से इसके लिए पूरी कोशिश करेंगे।
गौरतलब है कि गुरुग्राम के रेयान स्कूल में पढ़ने वाले दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की शुक्रवार को चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी गयी थी।इसे लेकर लोगों में बहुत रोष है और वे लगातार विरोध- प्रदर्शन कर रहे हैं।
पुलिस ने इस मामले में स्कूल के दो अधिकारियों को गिरफ्तार भी किया है।प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की है जिस पर केन्द्र सरकार, हरियाणा सरकार, केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से जवाब मांगा गया है।
ठाकुर ने इस पूरे मामले की सीबीआई से जांच की मांग की है।उनका आरोप है कि प्रद्युम्न की मौत का कारण बच्चों की सुरक्षा में खामियां थी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि वह सीबीआई से जांच कराने की सिफारिश करने के लिये तैयार है।

Share it
Top