आधार नंबर की तरह प्रत्येक परिवार का होगा अलग आईडी नंबर, आईडी बनाने में गुरुग्राम अव्वल

आधार नंबर की तरह प्रत्येक परिवार का होगा अलग आईडी नंबर, आईडी बनाने में गुरुग्राम अव्वल


गुरूग्राम। हरियाणा के लोगों के लिए अच्छी खबर। अब हरियाणा के रहने वाले प्रत्येक नागरिक का अपना अलग आईडी नंबर होगा। सबसे बड़ी बात यह है कि अगर कोई व्यक्ति अपने आपको परिवार से अलग दिखाना चाहे तो उसका आईडी भी परिवार से अलग बनेगा। सोमवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप ने बताया कि गुरुग्राम में यह काम पहले से शुरू हो चुका है और यहांपर 3700 परिवारों का रजिस्टेशन हो चुका है।

आईडी बनने से चारियों पर लगेगी लगाम

हरियाणा में आधार नंबर की तरह अब प्रत्येक परिवार का एक आईडी नंबर होगा और सरकारी सेवाएं प्राप्त करने तथा सरकारी विभागों के माध्यम से लागू की जा रही योजनाओं का लाभ लेते समय इस परिवार आईडी का उपयोग होगा। परिवार आईडी का डाटाबेस तैयार करने के लिए आज हरियाणा के वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी वी एस एन प्रसाद ने वीडियों कॉनफ्रेसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ चर्चा की। प्रसाद ने बताया कि आईडी काम पूरा होने के बाद चोरियों पर भी लगाम लेेगेगी। जहां ज्यादा चोरी होती है वहां का डाटा का अध्ययन करके वहां पर और ज्यादा सुरक्षा के प्रबंध किए जा सकते हैं।

कोई भी व्यक्ति अपने आपको दिखा सकता है परिवार से अलग

इस वीडियों कांफ्रेस में कुछ उपायुक्तों द्वारा परिवार की परिभाषा को लेकर संशय उठाए जाने पर श्री प्रसाद ने स्पष्ट किया कि सर्वे के दौरान यदि कोई व्यक्ति अपने आपको अलग परिवार के रूप में दर्शाना चाहता है तो उसे अलग परिवार ही दिखाएं। यहां तक कि एक विधवा, तलाकशुदा तथा जिस व्यक्ति का विवाह नहीं हुआ है वह भी अपने आपको अलग परिवार के रूप में दर्शा सकता है।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

परिवार आईडी के सर्वेक्षण का काम शुरू

गुरूग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने श्री प्रसाद को बताया कि जिला में अब तक 3700 परिवारों का आईडी के लिए रजिस्टेªशन हो चुका है। उन्होंने बताया कि इच्छुक व्यक्ति अपने परिवार की आईडी बनवाने को रजिस्टेªशन लिए नगर निगम कार्यालय, संबंधित नगर परिषद अथवा नगरपालिका कार्यालय तथा संबंधित खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने जिला के संबंधित अधिकारियों को परिवार आईडी का डाटाबेस तैयार करने के लिए हिदायतें देते हुए कहा कि गुरूग्राम नगर निगम अपने एक वार्ड में सभी परिवारों का रजिस्टेªशन 10 दिसंबर तक पूरा करें।


Share it
Top