गुरुग्राम में जल्द शुरू होगा इलेक्ट्रिक एसी बसों एवं गैर-एसी लो-फ्लोर बसों का परिचालन

गुरुग्राम में जल्द शुरू होगा इलेक्ट्रिक एसी बसों एवं गैर-एसी लो-फ्लोर बसों का परिचालन

चंडीगढ। हरियाणा के गुरुग्राम में शीघ्र ही इलेक्ट्रिक एसी बसों और गैर-एसी लो फ्लोर बसों को चलाया जाएगा। इसके अलावा, गुरुग्राम सिटी बस सेवा के लिए 100 बसों की लांचिंग के लिए डेक्स को मंजूरी प्रदान कर दी गई है।
प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि यह निर्णय गुरुग्राम मैट्रोपॉलिटन सिटी बस लिमिटेड(जीएमसीबीएल) के निदेशक मंडल की बैठक में लिया गया। बैठक में कम बोलीदाता को 100 नॉन-एसी-सीएनजी लो फ्लोर बसों के लिए कार्य अलॉट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि दूसरा पैकेज, जो कि 100 बसों का ही होगा, वह भी जल्द ही अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने आज 100 इलैक्ट्रिक एसी बसों और 100 गैर एसी लो फ्लोर बसों के लिए कंसेशनर के चयन की प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया है।
प्रवक्ता ने कहा कि सिटी बस संचालन की परियोजना का वैचारिक और प्रबंधन समर्थन केवल सात महीने की अवधि में मील का पत्थर हासिल करने में एमसीबीएल सक्षम रही है। जीएमसीबीएल के साथ 2019 के मध्य तक 400 बसों के संचालन की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि बस सेवा को अधिक कुशलता से चलाने के लिए स्वचालित वाहन स्थान प्रणाली (एवीएलएस), यात्री सूचना प्रणाली पीआईएस)/यात्री घोषणा प्रणाली (पीएएस), स्वचालित किराया संग्रह प्रणाली (एएफसीएस), जिसमें इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट मैनेजमैंट सिस्टम (आईटीएमएस) समाधान शामिल है, बस प्रबंधन प्रणाली और मोबाइल/वेबसाइट आवेदन का निर्णय लिया गया है। गुरुग्राम में सिटी बस संचालन के लिए नॉलेज पार्टनर डीआईएमटीएस की सलाह ली गई है कि बसों के संचालन के लिए इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट सिस्टम की स्थापना के लिए जीएमसीबीएल की सहायता करें।
प्रवक्ता ने बताया कि पेपरलेस और कम नकदी टिकट की ओर एक कदम बढ़ाते हुए मोबाइल टिकटों को सत्यापित करने और क्रेडिट/डेबिट कार्ड की सुविधा होगी। गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र में 9 स्थानों पर बस डिपो के लिए भूमि की पहचान की गई है। सेक्टर-10 और सेक्टर-52/53 में भूमि के हस्तांतरण के लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण से स्वीकृति प्राप्त हो गई है तथा निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। सेक्टर-48/72 में एचएसवीपी द्वारा भूमि के हस्तांतरण के लिए स्वीकृति जल्द ही अपेक्षित है। साथ ही परिवहन विभाग से एक स्थान के लिए आवंटन की पेशकश और एचएसआईआईडीसी द्वारा एक स्थान से प्राप्त हुई है।
अन्य स्थानों के लिए भूमि आवंटन का कार्य प्रक्रिया में है। उन्होंने बताया कि सेक्टर-10, सेक्टर-52/53 और सेक्टर-48/72 तीन स्थानों पर डिपो का निर्माण नगर निगम गुरुग्राम द्वारा शुरू कर दिया गया है। सेक्टर-10 और सेक्टर-52/53 में क्षेत्रीय डिपो का कार्य शुरू हो गया है। सेक्टर-48 में डिपो के निर्माण के लिए निविदाएं नगर निगम में भी प्राप्त की गई हैं और आवंटन के लिए पा में है, जो जल्द ही आवंटित कर दी जाएंगी। उन्होंने बताया कि 200 बसों के लिए गुरुग्राम महानगरीय क्षेत्र में 11 मार्गों की पहचान की गई है। इन मार्गों पर 453 बस क्यू शेल्टरों, जिनमें नगर निगम के 125 तथा जीएमडीए के 328 बस क्यू शैल्टर हैं, उनका निर्माण चल रहा है, जो वर्ष 2018 के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है।

Share it
Share it
Share it
Top