सरकारी अस्पतालों जैसा होगा निजी क्षेत्र की नर्सों का वेतन

सरकारी अस्पतालों जैसा होगा निजी क्षेत्र की नर्सों का वेतन

नई दिल्ली। सरकार ने आज लोकसभा में आश्वासन दिया कि यह सुनिश्चित किया जाएगा कि निजी अस्पतालों में काम करने वाली नर्सों को भी सरकारी अस्पतालों की नर्सों के बराबर वेतन मिले। लोकसभा में शून्यकाल में कांग्रेस के एंटो एंटनी तथा के सी वेणुगोपाल ने यह मामला उठाते हुए कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों और विशेषकर केरल में नर्सों को निजी अस्पतालों में महज चार-पांच हजार रुपए मासिक वेतन मिल रहा है। नर्स बनने के लिए प्रशिक्षण में कम से कम दस लाख रुपए खर्च करने पड़ते हैं। इसके लिए उन्हें कर्ज लेना पड़ता है, लेकिन जब नौकरी मिलती है तो उस पैसे से उन्हें कर्ज चुकाना मुश्किल हो जाता है, इसलिए सरकार हस्तक्षेप करे और उन्हें उचित वेतन मिले। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री जे.पी. नड्डा ने सदस्यों को आश्वासन दिया कि इस मामले में जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

Share it
Share it
Share it
Top