आईडीबीआई ऋण घोटाला मामले में 50 ठिकानों पर छापे

आईडीबीआई ऋण घोटाला मामले में 50 ठिकानों पर छापे

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने 660 करोड़ रुपये के आईडीबीआई बैंक ऋण घोटाला मामले में बैंक के 15 वरिष्ठ अधिकारियों एवं 24 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
सीबीआई सूत्रों ने आज यहां बताया कि जांच एजेंसी ने इस मामले में एयरसेल के पूर्व प्रवर्तक सी शिवशंकरन की दो कंपनियों, सिंडिकेट बैंक और इंडियन बैंक के प्रबंध निदेशकों और मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। शिवशंकरन की कंपनियों ने फरवरी, 2014 में कथित रूप से 530 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था। एनपीए बनने के बाद यह राशि 600 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसी ने दिल्ली, चेन्नई, बेंगलुरु, बेलगाम, मुंबई, हैदराबाद, फरीदाबाद, गांधीनगर, जयपुर और पुणे सहित देश के 50 ठिकानों पर छापे मारे, इनमें आईडीबीआई बैंक के पूर्व वरिष्ठ अधिकारियों के आवास भी शामिल हैं। यह मामला फिनलैंड की विन विंड ओई और एक्सेल सनशाइन लिमिटेड के ऋण खातों के माध्यम से धोखाधड़ी करने के आरोपों में ब्रिटिश-वर्जिन द्वीप समूह स्थित एक्सेल सनशाइन लिमिटेड के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार से संबंधित धाराओं के तहत दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त अधिकारियों सहित आईडीबीआई बैंक के 15 वरिष्ठ अधिकारियों और 24 निजी क्षेत्र के अधिकारियों (अध्यक्ष एवं निदेशकों सहित) और उनकी कंपनियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

Share it
Top