ब्रज कुंड मामले में एनजीटी के आदेश पर रोक

ब्रज कुंड मामले में एनजीटी के आदेश पर रोक

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने मथुरा के गोवर्धन में ब्रज के पौराणिक तीन कुंडों को तोड़कर उनकी जगह गऊ घाट बनाने के राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) के आदेश पर आज रोक लगा दी।
न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति एम.एम. शांतानागौदर की खंडपीठ ब्रज फाउंडेशन की याचिका पर यह आदेश जारी किया। एनजीटी ने पिछले दिनों तीन पौराणिक कुंडों को तोड़कर उनकी जगह गऊ घाट बनाने का आदेश जारी किया था। जिन तीन पौराणिक कुंडों को तोडऩे का एनजीटी ने आदेश दिया था, उनमें संकर्षण कुंड, रुद्र कुंड और रणमोचन कुंड शामिल हैं। एनजीओ की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने दलील दी कि जनहित में जारी कोई आदेश 'जन-विरोधी आदेश' कतई नहीं हो सकता। एनजीटी के आदेश पर रोक का अनुरोध करते हुए श्री सिंघवी ने कहा कि सही काम करने का न्यायाधिकरण का यह गलत तरीका है।

Share it
Top