माल्या प्रकरण: ब्रिटिश राज में बनीं थीं भारत की जेलें: मोदी

माल्या प्रकरण: ब्रिटिश राज में बनीं थीं भारत की जेलें: मोदी

नई दिल्ली। करोड़ों रुपए के घोटाले के आरोपी भगोड़े विजय माल्या के प्रत्यर्पण के अनुरोध के मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ब्रिटिश सरकार को आइना दिखाते हुए कहा है कि भारत में वही जेलें हैं, जिनमें ब्रिटिश राज में गांधी एवं नेहरू को रखा जाता था।
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यहां विदेश मंत्रालय की चार साल की उपलब्धियों की जानकारी देने के लिए आयोजित संवाददाता सम्मेलन में माल्या के प्रत्यर्पण के बारे में एक सवाल के जवाब में कहा कि विजय माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर स्टेट बैंक कंसोर्टियम ने मुकदमा दायर किया था और वे मुकदमा जीत भी गये हैं। अदालत ने कहा है कि बैंक ऋण वसूली कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक जेलों की स्थिति जांचने का सवाल है, तो प्रधानमंत्री श्री मोदी जब राष्ट्रमंडल शिखर बैठक में भाग लेने लंदन गये थे तो प्रधानमंत्री टेरेसा मे से कहा था कि भारत के भगोड़ों के प्रत्यर्पण में बहुत देर लगती है और अदालतें पूछतीं हैं कि हमारे यहां जेलों की स्थिति क्या है। श्री मोदी ने कहा था कि 'हमारे यहां वहीं जेलें हैं, जिनमें आपके पूर्वजों ने महात्मा गांधी और पं. जवाहरलाल नेहरू को रखा था। इसलिए भारत से यह सवाल पूछना सही नहीं है।

Share it
Top