पिता-पुत्री की जोड़ी ने फतह किया माउंट एवरेस्ट

पिता-पुत्री की  जोड़ी ने फतह किया माउंट एवरेस्ट

नई दिल्ली। अजीत बजाज और दीया बजाज, ये नाम हैं उस पिता और बेटी के जो आज माउंट एवरेस्ट पर फतह हासिल करके इस चोटी पर चढ़ाई करने वाले पहले भारतीय पिता-पुत्री युगल बन गये हैं। रोमांचक यात्राओं के शौकीन अजीत बजाज और उनकी पर्वतारोही बेटी दीया ने 16 अप्रैल को समुद्र की सतह से 167०० फुट ऊपर से पर्वतारोहण अभियान की की शुरुआत की थी। रास्ते के तमाम खतरों और ऊंचाई पर तेजी से बदलते मौसम से जूझते हुए आखिरकार यह जोड़ी माउंट एवरेस्ट पर फतह हासिल करने में कामयाब रही। अजीत ने बताया कि जैसे ही वे दोनों माउंट एवरेस्ट के करीब पहुंचे, वे विश्व के प्राकृतिक अजूबों में से एक इस चोटी को निहारने लगे।
उन्होंने कहा कि हमें वहां पहुंचकर महसूस हुआ कि हम कभी भी पहाड़ पर फतह हासिल नहीं कर सकते और हमें पूरे सम्मान और विनम्रता के साथ पर्वत पर चढऩा सीखना होगा। प्रकृति मां ही सर्वोच्च शक्ति है। दीया का कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि उनकी इस यात्रा और उनके पिता से मिल रहा प्रोत्साहन देश की बालिकाओं के लिए प्रकाश स्तंभ बनेगा। अजीत उत्तरी और दक्षिणी ध्रुव पर स्कीइंग करने वाले पहले भारतीय है। उन्हें इस उपलब्धि के लिए पद्मश्री से भी नवाजा जा चुका है।

Share it
Share it
Share it
Top