तीन तलाक विधेयक का समर्थन किया एआईयूएमएम ने

तीन तलाक विधेयक का समर्थन किया एआईयूएमएम ने

नई दिल्ली। आल इंडिया युनाइटेड मुस्लिम मोर्चा ने तीन तलाक को दंडनीय बनाने वाले विधेयक का समर्थन करते हुए कहा है कि मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड इसे लेकर लोगों को गुमराह कर रहा है । संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रवक्ता कमाल अशरफ ने आज यहां प्रेस कांफ्रेंस में आरोप लगाया कि मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड इस विधेयक का विरोध करके समाज को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। श्री अशरफ ने कहा कि यदि विधेयक में सजा के प्रावधान में सुधार की गुंजाइश है तो संसद में इसमें संशोधन किया जा सकता है। यह विधेयक लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि वह सांप्रदायिक राजनीति को खत्म कर रहे हैं। कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि इस विधेयक का लोकसभा में समर्थन और राज्यसभा में विरोध करके मुख्य विपक्षी पार्टी बेनकाब हो गयी है। तीन तलाक की कुप्रथा को खत्म की कोशिश से शरीयत की जीत हुई है।

Share it
Top