एक राष्ट्र एक चुनाव हो: नकवी

एक राष्ट्र एक चुनाव हो: नकवी

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्र में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने पर जोर देते हुए आज कहा कि बार बार चुनाव होने से विकास कार्य बाधित होतेू है। नकवी ने'देश के नव निर्माण में अल्पसंख्यकों की भूमिका विषय पर यहां आयोजित सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव अलग अलग होने से बार बार आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने से विकास कार्यो में बाधा पड़ती है। सरकारें पैसा होने के बावजूद खर्च नहीं कर पाती है ।'एक राष्ट्र एक चुनाव से आधी समस्याओं का समाधान हो जायेगा। अल्पसंख्यक समुदाय की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इस वर्ग के लोगों ने देश की आजादी के पहले और बाद में राष्ट्र निर्माण में बहुमूल्य योगदान दिया है और संविधान ने उन्हें बराबरी का अधिकार दिया है। पिछली सरकार धर्मनिरपेक्षता की बात करती थी और अल्पसंख्यकों के साथ भेदभाव करती थी। अब किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जाता है और लोग शिक्षा एवं रोजगार के अवसर प्राप्त करने के तरीकों को जान गये हैं। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी में ही जम्मू कश्मीर समस्या के समाधान का साहस है। उन्हेंने साहसिक क्षमता का परिचय देते हुए इस राज्य के सभी वर्गो के लोगों की राय हासिल करने के लिए केन्द्र का प्रतिनिधि नियुक्त किया है। केन्द्र सरकार सुरक्षा के साथ विकास कर रही है।

Share it
Top