संभ्रांत परिवार में जन्म के कारण किसी से घृणा नहीं कर सकते : स्मृति ईरानी

संभ्रांत परिवार में जन्म के कारण किसी से घृणा नहीं कर सकते : स्मृति ईरानी

नयी दिल्लीगांधी परिवार के वारिस एवं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट पर 54 हजार मतों से पराजित करने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को श्री गांधी के प्रति झुकाव का इजहार करते हुए कहा कि कोई भी उनके साथ सिर्फ इस कारण से घृणा नहीं कर सकता कि वे संभ्रांत परिवार में पैदा हुए है। श्रीमती ईरानी ने रिपब्लिक चैनल के साथ एक इंटरव्यू में कहा, "हां, ऐसे लोग हैं जो अधिक संभ्रांत परिवारों में पैदा हुए हैं लेकिन इस कारण से हम उनसे घृणा नहीं कर सकते, हालांकि अगर शुरूआत करने के अवसर में बराबरी नहीं मिले तो शायद आप उनसे नाराज ज़रूर हो जाते हैं।"

उन्होंने इस चुनाव में राजग की प्रचंड विजय को लोकतंत्र को खतरा बताने वाले लोगों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि विपक्ष के एक नेता के हारने पर यह कहना कि लोकतंत्र खतरे में है, जनादेश का अनादर है।

इस प्रचंड विजय का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देते हुए श्रीमती ईरानी ने कहा कि श्री मोदी ने लोगों का आशीर्वाद पाने के लिए काम किया और ये कोई आसान यात्रा नहीं थी। और वे आशीर्वाद पाने के हकदार हैं। उन्होंने 2014 में और 2019 में जीत को बहुत विनम्रता से स्वीकार किया और श्री लालकृष्ण आडवाणी के यहां जाकर उन्होंने दिखाया कि भाजपा असल में क्या है।

उन्होंने कहा कि लोगों ने देश को बहुत ही हल्के में लिया, वे सत्ता में बैठे रहे और सोचते रहे कि वे एक अरब लोगों की तकदीर लिखेंगे। श्री माेदी दिल्ली आये और कहा कि हम अपनी तकदीर खुद लिखेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का ज़मीन की वास्तविकता से जुड़ाव है। श्री मोदी को इस बात की समझ है कि गंदगी में और बिना बिजली के रहने का अनुभव क्या है। इसलिए काेई समझ नहीं पाएगा कि किसी गांव में पहली बार बिजली का पहुंचना क्या होता है। पर वह गांव समझता है।

श्रीमती सुषमा स्वराज के बारे में उन्होंने कहा कि श्रीमती स्वराज की कहानी सबसे शानदार है क्योंकि उन्होंने उस वक्त राजनीति में जगह बनायी जब एक महिला के लिए ऐसा करना आसान नहीं था।

श्रीमती ईरानी ने अमेठी की जनता का आभार व्यक्त किया और विकास का वादा दोहराया। उन्होंने चार लाख 67 हजार 598 वोट हासिल किये जबकि श्री राहुल गांधी को चार लाख 12 हजार 867 वोट मिले हैं।

Share it
Top